Sep 21 2021 / 2:11 PM

8 अक्टूबर को विजयादशमी, इस शुभ मुहूर्त पर होगा रावण दहन

Spread the love

नई दिल्ली। शारदीय नवरात्र 29 सितंबर से मनाई जा रही है। 8 अक्टूबर यानि विजयादशमी को रावण का पुतला दहन किया जाएगा। भगवान राम ने इसी दिन रावण का वध किया था और देवी दुर्गा ने नौ रात्रि और दस दिनों के युद्ध के बाद महिषासुर पर विजय प्राप्त किया था। विजयादशमी को असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाता है। इसलिए दशमी को विजयादशमी के रूप में मनाते हैं।

इस दिन लोग शस्त्र पूजा करते हैं और नया काम शुरू करते हैं। ऐसा कहा जाता है कि विजयादशमी के दिन जो कार्य शुरू होता है उसमें निश्चित सफलता मिलती है। विजयादशमी के दिन पूरे भारत में जगह-जगह मेला का आयोजन किया जाता है और रामलीला का भी आयोजन होता है।

विजयादशमी के दिन जगह-जगह रावण का विशाल पुतला बनाकर उसका दहन करते हैं। मनुष्य और समाज के रक्त में वीरता प्रकट हो इसलिए दशहरे त्योहार को उत्सव रखा जाता है। दशहरा का पर्व दस प्रकार के पापों, काम, क्रोध, लोभ, मोह,मत्सर, अहंकार, आलस्य, हिंसा और चोरी के त्याग करने का प्रेरणा प्रदान करता है।

विजयादशमी का महत्व-
विजयादशमी का सांस्कृतिक महत्व भी है। हमारा देश भारत एक कृषि प्रधान देश है। जब किसान अपने खेतों से अनाज रूपी संपति घर लाता है तो उसके उल्लास और उंमग की सीमा नहीं हैती है। इस खुशी के मौके पर वह भगवान की कृपा को मानते हुए उनका पूजन करता है। इस त्योहार को भगवती के ‘विजया’ नाम पर भी विजया दशमी कहते हैं। इस दिन भगवान राम जी ने 14 साल का वनवास खत्म कर के और रावण का वध करने के बाद अयोध्या पहुंचे थे। इसलिए भी इस पर्व को विजयादशमी कहते हैं।

जानिए रावण दहन का शुभ मुहूर्त-
8 अक्टूबर 2019 को दोपहर 02:05:40 से 02:52:29 तक

दशहरा विजय मुहूर्त-
दोपहर 02:04 मिनट से 02:50 मिनट तक

दशहरा अपराह्रन पूजा समय-
दोपहर 01:17 मिनट से 03:36 मिनट तक है

Chhattisgarh