Nov 28 2021 / 4:48 PM

इस हफ्ते खुलेंगे कई राज एण्डटीवी पर!

Spread the love

एण्डटीवी के आगामी हफ्ते में इन सभी शोज़ में कई अहम खुलासे होने वाले हैं-‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘, ‘और भई क्या चल रहा है?‘, ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ और ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में।

क्या गेंदा-वरुण के राज का होगा खुलासा?

एण्डटीवी के ‘घर के एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ में कुंदन (साई बल्लाल) को ट्रेजरर का पद मिल जाता है, जिससे गोपाल नाराज होकर, बदला लेने का फैसला करता है। गोपाल देखता है कि कुंदन अग्रवाल के दुकान की लाइट जली हुई है और अंदर झांकने पर पाता है कि गेंदा घर जाने की तैयारी में है। गेंदा चोरी-छुपे गहनों की डिजाइनिंग में वरुण की मदद कर रही है, क्या यह राज सामने आ जायेगा? इस ट्रैक के बारे में गेंदा अग्रवाल के रूप में नजर आने वाली श्रेणू पारीख कहती हैं, ‘‘एक-दूसरे में नया-नया प्यार और प्रेम पाने के बाद से गेंदा और वरुण का रिश्ता सही दिशा में आगे बढ़ रहा है। यहां तक कि दोनों एक साथ करवाचैथ का व्रत भी रखते हैं। हालांकि, व्रत रखने की वजह से वरुण बीमार पड़ जाता है और गेंदा को आॅफिस का काम पूरा करने का आग्रह करता है। गेंदा, वरुण की मदद कर रही होती है, लेकिन यह बात उनके दोनों के बीच ही होती है और परिवार में किसी को भी इस बारे में पता नहीं होता । लेकिन, गोपाल दुकान में गेंदा को देखकर यह मान लेता है कि वह एक चोर है और पुलिस के साथ-साथ सबको बुला लेता है। गेंदा परिवार के सामने राज का पर्दाफाश होने से कैसे रोक पायेगी?‘‘

करिश्मा ने उड़ाये मिश्रा-मिर्जा के होश

एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है‘ में शांति मिश्रा (फरहाना फातिमा) और सकीना मिर्जा (अकांशा शर्मा) एक मुकाबले में करिश्मा से हार जाती हैं, जहां वे पुरुषों की वफादारी के बारे में बात करते हैं और दोनों ही अपने-अपने पतियों और उनके प्यार के बारे में बढ़ा-चढ़ाकर बताती हैं। इस चैलेंज में करिश्मा, मिश्रा और मिर्जा को अपना दीवाना बनाने का प्लान बनाती है। पहले तो ना तो उसके ठुमके और ना ही उसकी अदायें अपना कोई जादू दिखाती नजर आती हैं, लेकिन जब उन पुरुषों को अकेले में पाती हैं तो उन पर अपना जादू चला ही देती है। इस पर शांति और सकीना की क्या प्रतिक्रिया होगी?शांति मिश्रा का किरदार निभा रहीं, फरहाना फातिमा कहती हैं, ‘‘यह ट्रैक हमें रिश्तों का महत्व समझाने और उसकी इज्जत करने का अहम संदेश देता है। किसी की वफादारी पर शर्त लगाना या चुनौती देना उतना ही अच्छा है जितना कि किसी और व्यक्ति और उसके इरादों पर शक करना। करिश्मा और उसकी अदायें देखना बेहद मजेदार है, लेकिन शांति और सकीना को शर्त हारना रास नहीं आया। और अधिक जानने के लिये इस ट्रैक को देखें।‘‘

जब हप्पू ने की एलियन से लड़ाई

एण्डटीवी के ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ में राजेश (कामना पाठक) को बाहर ले जाने से बचने के लिये, हप्पू (योगेश त्रिपाठी) घर देरी से आता है और बहाने बनाता है कि एलियन से लड़ाई में वह बाल-बाल बचा है। वैसे, राजेश इन बहानों को सही मान लेती है, जबकि बच्चे इस तरह के बहाने होमवर्क और बाकी कामों से बचने के लिये करते हैं। यह बात जंगल में आग की तरह फैल जाती है और मीडिया तक पहुंचती है, जोकि बच्चों और प्रिंसिपल का इंटरव्यू लेने के लिये बेताब हो जाते हैं। जब वे हप्पू से इसका सबूत मांगते हैं तो वह एलियन के साथ एक तस्वीर बनवाता है। इस ट्रैक के बारे में, हप्पू सिंह के रूप में नजर आने वाले योगेश त्रिपाठी कहते हैं, ‘‘कई बार हम झूठ बोलते हैं और कभी पकड़े नहीं जाते, लेकिन कई बार हम इतना बढ़ा-चढ़ाकर कहानी बनाते हैं कि उसे साबित कर पाना मुश्किल होता है। इसका पता आगे के एपिसोड में चलेगा कि हप्पू सच में एलियन के साथ फंस जाता है या फिर यह उसकी चाल है। लेकिन एक बात तो तय है कि दर्शकों को यह देखकर ठहाके लगाने का मौका जरूर मिलेगा कि कैसे एक छोटी-सी बात शहर में चर्चा का विषय बन जाती है और हप्पू, मीडिया तथा रिसर्चर्स के सवालों में घिर जाता है।‘‘

अंगूरी ने संभाला कारोबार

हम अक्सर ऐसा मान लेते हैं कि हमारी तुलना में दूसरों का काम ज्यादा आसान है। ऐसा ही कुछ एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं‘ में सामने आया, जहां तिवारी (रोहिताश्व गौड़) और अंगूरी भाबी एक-दूसरे की जिम्मेदारी उठाने की शर्त लगाते हैं। तो तय यह होता है कि यदि अंगूरी एक महीने में 1.5 लाख रुपये का बिजनेस नहीं ला पाती है तो उसे अम्मा के साथ रहना होगा। देखिये, काॅमेडी आॅफ एरर्स, क्योंकि तिवारीजी ने घर की जिम्मेदारी संभाली है। वहीं, दूसरी तरफ अंगूरी, जिसे इस बिजनेस के बारे में ज्यादा पता नहीं होता है, गरीबों को मुफ्त में सामान देने लगती है। क्या वह शर्त हार जायेगी? इस मजेदार ट्रैक के बारे में अंगूरी भाबी के रूप में नजर आने वाली, शुभांगी अत्रे ने कहा, ‘‘जब आप देखेंगे कि अपनी-अपनी भूमिकाओं में बिलकुल परफेक्ट दो लोग अपनी-अपनी जगह बदलते हैं तो फिर हंगामा, मस्ती और ड्रामा होना तो तय है। तिवारी और अंगूरी के बीच यह प्रतिस्पर्धा, काफी मजेदार और रोमांचक होने वाली है।खासकर, इस चुनौती को जीतने के लिये दोनों कैसे एक-दूसरे से आगे निकलने की कोशिश करते हैं। अंत में कौन विजेता होगा, इसे देखने के लिये दर्शकों को थोड़ा इंतजार करना होगा। लेकिन यह ट्रैक निश्चित तौर पर ढेर सारे ठहाके लेकर आने वाला है कि कैसे अंगूरी और तिवारी अपनी-अपनी काबिलियत साबित करने की कोशिशों में लगे हैं। और इस काॅम्पीटिशन में अंगूरी को रिझाने के लिये विभूति कौन-सा पैंतरा आजमाने वाला है?

देखिये, ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ रात 9 बजे, ‘और भई क्या चल रहा है? रात 9.30 बजे, ‘हप्पू की उलटन पलटन‘ रात 10 बजे और ‘भाबीजी घर पर हैं‘ रात 10.30 बजे, हर सोमवार से शुक्रवार, केवल एण्डटीवी पर

Chhattisgarh