Sep 29 2021 / 1:17 AM

‘यह लापरवाही बरतने का समय हरगिज नहीं है!’

Spread the love

दूसरी लहर के बाद देशवासियों को ज्यादा सावधान रहने की जरूरत पर कहना है मानवतावादी एक्टर भूमि पेडनेकर का

भारत अभी-अभी कोविड-19 की दूसरी घातक लहर से गुजरा है, जिसने देश को पंगु बना दिया था। ऐसे में मानवतावादी एक्टर भूमि पेडनेकर देश के नागरिकों से आग्रह कर रही हैं कि वे निश्चिंत और शिथिल होकर लापरवाही न बरतें। कोविड-19 के मामलों में आई गिरावट के बावजूद भूमि लोगों को याद दिला रही है कि हम अभी भी महामारी के बीच में फंसे हुए हैं और हम सबको अत्यधिक सावधान रहने की आवश्यकता है, ताकि हम कोविड मामलों की अगली वृद्धि पर काबू पा सकें।

महामारी से प्रभावित लोगों की मदद करने के उद्देश्य से एक सोशल मीडिया पहल ‘कोविड वारियर’ संचालित करने वाली भूमि का कहना है- “हमें अत्यधिक सतर्क रहने की जरूरत है क्योंकि वायरस कहीं नहीं गया है। जिंदगियां लगातार दांव पर लगी हुई हैं, इसलिए हमें जिम्मेदारीपूर्वक कदम उठाने की आवश्यकता होगी। हममें से प्रत्येक के पास अपना-अपना योगदान करने और भारत को पटरी पर लाने की कूवत मौजूद है। आइए, अपने देश के लिए इसी दिशा में काम किया जाए।”

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए वह कहती हैं, “हमें इस बात को समझना होगा कि सावधानी बरत कर हम मेडिकल बिरादरी की भी मदद करेंगे, जो मार्च 2020 के बाद से एक भी दिन चैन से नहीं बैठी है। हमें महसूस होना चाहिए कि उनके भी परिवार हैं। कोरोना वायरस के प्रति लापरवाह होकर हम उन्हें और उनके परिवारों को भी जोखिम में डाल रहे हैं। अपनी जिम्मेदारियों के बारे में सचेत होकर हम देश के स्वास्थ्य-ढांचे का बोझ भी हल्का करेंगे।“

भूमि चाहती हैं कि प्रत्येक भारतीय बेहद सतर्क बना रहे और वायरस के फैलाव पर काबू पाने के लिए सुझाई गई सभी प्रक्रियाओं का पालन करे।

वह बताती हैं, “हम महामारी के बीच में हैं और यह लापरवाही बरतने का समय हरगिज नहीं है। यह बात जरूर है कि महामारी के बावजूद हम सबको काम करना है और अपने परिवारों को पालना है। लेकिन सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करने, नियमित रूप से हाथ धोने या उन्हें सैनिटाइज करने और घर पहुंचते ही सुझाए गए उपायों पर अमल करने को लेकर हमें बेहद सावधानी बरतनी होगी। हम वायरस को दूर रखने की कोशिश तो कर ही सकते हैं। चलिए, ऐसा ही किया जाए।“

Chhattisgarh