Sep 20 2021 / 11:47 PM

SL vs IND: श्रीलंका ने भारत को दिया 276 रन का लक्ष्य

Spread the love

नई दिल्ली। भारत को दूसरे वनडे में जीत के लिए श्रीलंका से 276 रन का लक्ष्य मिला है। मेजबान टीम ने पहले बैटिंग करते हुए चरित असलंका (65) और अविष्का फर्नान्डो (50) के अर्धशतकों के साथ ही आखिरी ओवरों में चमिका करुणारत्ने के नाबाद 44 रन की बदौलत नौ विकेट पर 275 रन का स्कोर खड़ा किया।

भारत के लिए युजवेंद्र चहल और भुवनेश्वर कुमार सबसे कामयाब गेंदबाज रहे जिन्होंने तीन-तीन विकेट लिए। उनके अलावा दीपक चाहर ने दो विकेट लिए। टीम इंडिया के गेंदबाजों ने एक बार फिर से बढ़िया गेंदबाजी की और श्रीलंका को बड़े स्कोर तक नहीं पहुंचने दिया। भारत तीन मैच की सीरीज में 1-0 से आगे है। उसने पहला मैच सात विकेट से जीता था। यह मैच जीतते ही भारत वनडे सीरीज पर कब्जा कर लेगा।

पहले बैटिंग करते हुए श्रीलंका ने अच्छी शुरुआत की। अविष्का फर्नान्डो और मिनोद भनुका ने पहले विकेट के लिए 77 रन जोड़े और भारत को पावरप्ले के पहले 10 ओवर में विकेट के लिए तरसा दिया। दोनों ने दीपक चाहर और भुवनेश्वर कुमार की भारतीय तेज गेंदबाजी जोड़ी का बढ़िया तरीके से सामना किया। लेकिन पहले मैच की तरह जैसे ही भारत के स्पिनर मोर्चे पर आए वैसे ही श्रीलंका की बल्लेबाजी लड़खड़ा गई।

युजवेंद्र चहल ने पहले मिनोद भनुका (36) को आउट किया। भनुका छह चौकों से सजी पारी खेलने के बाद मनीष पांडे को कैच दे बैठे। अगली ही गेंद पर भनुका राजपक्षा बिना खाता खोले चलते बने। चहल की एक शानदार गेंद ने उन्हें शिकार बनाया। विकेट के पीछे इशान किशन ने शानदार कैच लपका। इस तरह श्रीलंका का स्कोर बिना नुकसान के 77 रन से दो विकेट पर 77 रन हो गया।

इसके बाद श्रीलंकाई पारी में रनगति थम गई। कुलदीप यादव, चहल और क्रुणाल पंड्या ने मिलकर श्रीलंकाई बल्लेबाजों को रनों के संघर्ष कराया। इस दौरान फर्नान्डो और धनंजय डीसिल्वा श्रीलंका के स्कोर को 100 रन के पार ले गए। अविष्का फर्नान्डो ने इस दौरान अपना अर्धशतक पूरा किया लेकिन 50 रन का आंकड़ा पार करते ही वे भुवनेश्वर कुमार की गेंद पर कमजोर शॉट खेलकर आउट हो गए। वे क्रुणाल पंड्या के हाथों लपके गए।

उन्होंने 71 गेंद में चार चौकों और एक छक्के से 50 रन बनाए। कुछ देर बाद ही धनंजय को दीपक चाहर ने चलता कर दिया। उन्होंने एक चौके से 45 गेंद में 32 रन बनाए। कप्तान दसुन शनका 16 रन बनाने के बाद चहल के तीसरे शिकार बने और बोल्ड हो गए। वहीं वानिंदु हसरंगा आठ रन बनाकर दीपक चाहर की गेंद पर बोल्ड हुए।

184 रन पर छह विकेट गिरने के बाद चरित असलंका ने चमिका करुणारत्ने के साथ मिलकर 50 रन जोड़े और टीम को 250 रन के पास ले गए। इस दौरान असलंका ने अपना अर्धशतक पूरा किया। वे 68 गेंद में छह चौकों से 65 रन बनाने के बाद सातवें विकेट के रूप में भुवी के दूसरे शिकार बने। आखिरी ओवरों में एक बार फिर से चमिका करुणारत्ने ने तेजी से रन बटोरे। उन्होंने 33 गेंद में पांच चौकों की बदौलत नाबाद 44 रन की पारी खेली।

Chhattisgarh