Sep 21 2021 / 1:36 PM

शाहजहांपुर केस: स्वामी चिन्मयानंद ने कबूले जुर्म, बोला- कराई थी मालिश….

Spread the love

शाहजहांपुर। उत्तर प्रदेश के लॉ कॉलेज की छात्रा के यौन शोषण के मामले में विशेष जांच दल (एसआईटी) ने पूर्व केंद्रीय राज्य मंत्री और भाजपा नेता चिन्मयानंद को गिरफ्तार कर लिया। स्वामी चिन्मयानंद ने अपनी गलती स्वीकार कर ली है।

मामले की जांच कर रही स्पेशल इन्वेस्टिगेशन टीम (एसआईटी) का दावा है कि चिन्मयानंद ने पीड़ित लड़की को मसाज के लिए बुलाने में अपनी गलती स्वीकार की है।एसआईटी ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले की जानकारी दी।

एसआईटी के प्रमुख नवीन अरोड़ा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में बताया कि चिन्मयानंद ने छात्रा से मसाज कराने और अश्लील बातें करने की बात कबूली है। हालांकि, जब एसआईटी ने दुष्कर्म को लेकर सवाल पूछा तो उसने चुप्पी साध ली। सिर्फ इतना कहा- मैं शर्मिंदा हूं।

अरोड़ा के मुताबिक, चिन्मयानंद और पीड़िता के बीच जनवरी से अब तक 200 बार कॉलिंग हुई। वहीं पीड़िता की उसके दोस्त से इसी दौरान 4200 बार बात हुई थी। एसआईटी ने चिन्मयानंद से रंगदारी वसूलने के मामले में भी तीन आरोपियों की गिरफ्तार किया है।

बता दें कि स्वामी चिन्मयानंद विधि महाविद्यालय में लॉ की छात्रा ने 24 अगस्त को एक वीडियो पोस्ट किया था। इसमें उसने कहा था कि एक संन्यासी ने कई लड़कियों की जिंदगी बर्बाद कर दी। उसे और उसके परिवार को इस संन्यासी से जान का खतरा है।

उसके बाद लड़की के पिता ने चिन्मयानंद के खिलाफ यौन शोषण की रिपोर्ट दर्ज कराने के लिए शिकायत दी थी, लेकिन पुलिस ने केस दर्ज नहीं किया। इसके बाद छात्रा लापता हो गई थी। यूपी पुलिस ने 30 अगस्त को उसे राजस्थान से बरामद किया था। सुप्रीम कोर्ट में एसआईटी जांच और पीड़िता को सुरक्षा देने के निर्देश दिए थे।

Chhattisgarh