Sep 21 2021 / 1:51 PM

हिटलर और मुसोलिनी को अपना आदर्श मानती है आरएसएस: सीएम भूपेश बघेल

Spread the love

रायपुर। छत्तीसगढ़ के मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने आरएसएस को हिटलर और मुसोलिनी से प्रेरित संगठन बताया है। गुरुवार को रायपुर स्थित कांग्रेस के प्रदेश कार्यालय में अपने संबोधन में उन्होंने कहा कि जिस हिटलर और मुसोलिनी को अपना आदर्श मानते हैं आरएसएस के लोग, जिससे प्रेरणा लेकर ये काली टोपी और खाकी पैंट पहनते हैं और ड्रम बजाते हैं। ये भारत की वेशभूषा नहीं है। हम उन नेताओं के वंशज हैं जो देश के लिए अपना सर्वस्व कुर्बान करने के लिए तैयार थे।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने देश के पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय जवाहरलाल नेहरू की जयंती पर कहा कि श्री नेहरू अपने सिद्धांतों पर अडिग थे। वे हमेशा असहमति को सम्मान देते थे। उन्होंने कहा कि श्री नेहरू विकास के लिए हर क्षेत्र में काम किए है।

कांग्रेस मुख्यालय राजीव भवन में आज पंडित जवाहरलाल नेहरू की जयंती के अवसर पर व्याख्यान कार्यक्रम आयोजित किया गया। मुख्यमंत्री श्री बघेल कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए, वहीं अध्यक्षता प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम ने की। व्याख्यान कार्यक्रम में लेखक पीयूष बबेले मुख्य अतिथि के रूप में शामिल हुए।

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कहा कि भारत में अनेक विचारधारा के लोग हैं। इन सबको एक साथ लेकर चले वो नेहरू हैं। लेकिन कुछ लोग उनके कद को कम करना चाहते हैं, जो प्रधानमंत्री देश में ऐसे व्यक्ति के बारे में जानना जरूरी। भिलाई स्टील प्लांट उन्होंने बनवाया। हिंदुस्तान का प्रत्येक व्यक्ति यहां निवास करता है। अन्नदताओं को सम्मान और उनके हाथ मजबूत करने का काम नेहरू ने किया।

सीएम ने कहा हमने धान खरीदी के लिए केन्द्र को पत्र लिखा। इस पर केंद्र से जवाब आया यदि आप 2500 में धन खरीदेंगे तो इससे स्थिति खराब हो जाएगी। कर्जमाफी के बाद छत्तीसगढ़ में क्रयशक्ति बढ़ी है। उन्होंने कहा कि केन्द्र ने पैसा आरबीआई से निकल के कार्बोरेट सेक्टर में दिया और हमने किसान गरीब और आदिवासियों को दिया।

Chhattisgarh