Dec 01 2021 / 11:42 PM

हिंदू और हिंदुत्व अलग-अलग, आरएसएस और बीजेपी की विचारधारा नफरत भरी: राहुल गांधी

Spread the love

नई दिल्ली। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर बीजेपी और आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि हिंदू और हिंदुत्व अलग-अलग हैं। इसके साथ ही उन्होंने आरएसएस और बीजेपी की विचारधारा को नफरत भरी बताया। राहुल ने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा जोड़ने वाली, कांग्रेस की राजनीति प्यार और राष्ट्रवाद वाली है।

राहुल गांधी ने पार्टी के डिजिटल अभियान ‘जग जागरण अभियान’ का शुभारंभ किय़ा। इस दौरान राहुल ने कहा कि हिन्दुस्तान में दो विचारधाराएं हैं, एक कांग्रेस पार्टी की और एक आरएसएस की। विचारधारा की लड़ाई सबसे अहम है, लेकिन हम अपने विचारों को ठीक से नहीं पहुंचा पा रहे है।

वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कांग्रेस के डिजिटल अभियान ‘जन जागरण अभियान’ के शुभारंभ पर बोलते हुए राहुल गांधी ने कहा, आज हम माने या न माने आरएसएस और बीजेपी की नफरत भरी विचारधारा प्यार करने वालों पर भारी पड़ गई है। कांग्रेस पार्टी की स्नेही और राष्ट्रवादी विचारधारा है और हमें इसे स्वीकार करना होगा।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस की विचारधारा जीवंत है, लेकिन यह छाया में आ गई है। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने दावा किया, हमारी विचारधारा को ढक दिया गया है, क्योंकि हमने इसे अपने लोगों के बीच आक्रामक तरीके से प्रचारित नहीं किया है।

कांग्रेस सांसद ने सवाल किया, हिदुज्म और हिंदुत्व में क्या अंतर है, क्या वे एक ही चीज हो सकते हैं? अगर वे एक ही चीज़ हैं, तो उनका एक ही नाम क्यों नहीं है? उन्होंने कहा, वे स्पष्ट रूप से अलग चीजें हैं। क्या सिख या मुसलमान को पीटना हिंदू धर्म है? हिंदुत्व बेशक है।

Chhattisgarh