Sep 21 2021 / 10:18 PM

तेजस में उड़ान भरने वाले देश के पहले रक्षा मंत्री बने राजनाथ

Spread the love

नई दिल्ली। बेंगलुरु में स्वदेशी लड़ाकू विमान तेजस में गुरुवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने उड़ान भरी। तेजस में उड़ान भरकर राजनाथ सिंह ने एक नया इतिहास रच दिया है। वह तेजस में उड़ान भरने वाले देश के पहले रक्षा मंत्री बन गए हैं। इससे पहले पूर्व रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने लड़ाकू विमान सुखोई में उड़ान भरी थी। रक्षामंत्री करीब आधे घंटे तक तेजस विमान में ही रहे।

राजनाथ सिंह ने तेजस से उड़ान भरने के बाद कहा ‘आज हम ऐसी स्थिति में पहुंच गए हैं जहां हमें दूसरे देशों से भी तेजस जैसे एयरक्राफ्ट के ऑर्डर मिल रहे हैं। यह स्वदेशी विमान है, इसलिए मेरा हमेशा से यह मन था कि इसकी उड़ान का अनुभव लें। मैंने भी कुछ समय के लिए एयरक्राफ्ट कंट्रोल किया। मुझे काफी गर्व महसूस हुआ। हमें हमारी देश की सेना पर, इंजिनियर्स पर, एचएएल सभी पर काफी गर्व है।’

बता दें कि 3 साल पहले ही तेजस’ को वायुसेना में शामिल किया गया था, भारत का तेजस लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (एलसीए) ऐसाएक दमदार लड़ाकू विमान है, जो अपनी श्रेणी में पाकिस्तान और चीन के लड़ाकू विमानों को कड़ी टक्कर दे रहा है।

तेजस को हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड और एयरोनॉटिकल डेवलपमेंट एजेंसी द्वारा डिजाइन और विकसित किया गया है। इस सिंगल-इंजन फाइटर के शामिल होने से भारतीय वायुसेना को मिग -21 बाइसन विमान को बदलने की अनुमति मिल जाएगी। दिसंबर 2017 में भारतीय वायुसेना द्वारा 83 तेजस विमानों के लिए प्रस्ताव (RFP) जारी किया गया था।

उल्लेखनीय है कि 83 तेजस विमानों में से 10 दो सीट वाले होंगे और भारतीय वायुसेना इन विमानों का इस्तेमाल अपने पायलटों के प्रशिक्षण के लिए करेगी। हिंदुस्तान एयरोनॉटिक्स लिमिटेड (HAL) द्वारा बनाए गए इस विमान का आधिकारिक नाम ‘तेजस’ पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बाजपेयी ने दिया था। यह संस्कृत का शब्द है। जिसका अर्थ होता है अत्यधिक ताकतवर ऊर्जा। HAL ने इस विमान को लाइट कॉम्बैट एयरक्राफ्ट (LCA) यानी हल्का युद्धक विमान प्रोजेक्ट के तहत बनाया है।

Chhattisgarh