Sep 21 2021 / 10:51 PM

CAA को लेकर मोदी सरकार पर बरसे राज ठाकरे, कहा- बाहरी लोगों को लाने के लिए भारत कोई धर्मशाला नहीं है

Spread the love

महाराष्ट्र। नागरिकता कानून और एनआरसी को लेकर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे बीजेपी की मोदी सरकार पर जमकर बरसे। राज ठाकरे ने कहा कि बाहरी लोगों को लाने के लिए भारत कोई धर्मशाला नहीं है। यहां के 135 करोड़ लोगों की समस्याएं हल करने में सरकार विफल है। बाहर के लोग आकर यहां की नौकरी हासिल करेंगे।

राज ठाकरे ने कहा कि शिवसेना और भाजपा ने राज्य में मिले जनादेश का अपमान किया है। जनता दोनों को सबक सिखाने के लिए तैयार बैठी है। राज ठाकरे ने पुणे में पत्रकारों को बताया कि देश आर्थिक मंदी के दौर से गुजर रहा है. आगे हालात और भी खराब होने वाले हैं लेकिन अमित शाह अभिनंदन के पात्र हैं।

उन्होंने नागरिक संशोधन अधिनियम और नेशनल सिटिजन रजिस्टर लाकर पूरे देश का ध्यान इस गंभीर समस्या से हटा दिया है। पूरे देश में नागरिकता साबित करने की चिंता फैल गई है और हर जगह हालात खराब हो गए हैं। जिस तरह की स्थिति नोटबंदी के समय हुई थी, उसी तरह की स्थिति उत्पन्न हो गई है।

राज ठाकरे ने कहा कि 135 करोड़ के इस देश को और अधिक लोगों की जरुरत नहीं है। जनसंख्या अधिक होने से सारा सिस्टम फेल हो गया है। मानवता दिखाने की जरूरत नहीं है. अगर मानवता दिखाना है तो देशवासियों को सुविधा देकर दिखाओ।

Chhattisgarh