Sep 22 2021 / 1:06 PM

उन्नाव गैंगरेप पीड़िता के परिजनों से मिली प्रियंका गांधी, न्याय की लड़ाई में साथ देने का आश्वासन दिया

Spread the love

उन्नाव। दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में देर रात उन्नाव गैंगरेप की पीड़िता का निधन हो गया। उसके पार्थिव शरीर को उन्नाव लाया जा रहा है। इस बीच कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी उन्नाव पहुंची। उसके बाद उन्होंने पीड़िता के परिवार से मुलाकात की। इस दौरान उन्होंने परिवारवालों को आश्वासन देते हुए कहा कि वो उनके साथ खड़ी हैं और उन्हें न्याय दिलाने में हर संभव सहायता करेंगी।

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने कहा कि कोई और मुख्यमंत्री होता हो खुद ही घटना की जिम्मेदारी लेता और इस्तीफा दे देता। मुख्यमंत्री योगी को पूरी घटना की जिम्मेदारी लेनी चाहिए। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल से पीड़िता का परिवार को परेशान किया जा रहा था। मैंने सुना है कि आरोपियों के भाजपा के साथ संबंध हैं, इसीलिए उन्हें अबतक सुरक्षा मिलती रही है। राज्य में अपराधियों के बीच कोई डर ही नहीं है।

न्याय की लड़ाई में साथ देने का आश्वासन
पीड़िता की भाभी ने बताया कि प्रियंका गांधी ने उन्हें न्याय की लड़ाई में साथ देने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा कि हमारी एक ही मांग है कि दोषियों को सजा-ए-मौत की जाए। इसके बाद ही पीड़िता की आत्मा को शांति मिलेगी। प्रियंका दो दिवसीय प्रवास पर लखनऊ आई हुईं थीं, प्रियंका गांधी ने आज के अपने सभी कार्यक्रम निरस्त कर दिए और उन्नाव पहुंचीं।

सपा के बाद कांग्रेस ने भी किया विरोध
सपा के बाद कांग्रेस पार्टी के कार्यकर्ता विधानसभा और बीजेपी कार्यालय के सामने धरने पर बैठे। इस दौरान उनकी पुलिस से झड़प हुई। झड़प के बाद कांग्रेस कार्यकर्ताओं पर पुलिस ने लाठीचार्ज भी किया। इस दौरान कांग्रेस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं के बीच भी झड़प हुई।

मायावती ने योगी सरकार पर बोला हमला
बीएसपी सुप्रीमो मायावती ने योगी सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि पिछले कुछ सालों में खास कर बीजेपी सरकार के दौरान महिलाएं सुरक्षित नहीं महसूस कर रहीं। यूपी में ऐसा कोई भी दिन नहीं जाता जब महिलाओं के खिलाफ अपराध का कोई केस न हो। जब तक राज्य सरकार समय तय कर एक्शन लेना नहीं शुरू करेगी, ऐसी घटनाएं थमने वाली नहीं हैं।

मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत
90 प्रतिशत से भी ज्यादा जल चुकी यूपी की इस ‘निर्भया’ ने आखिरी वक्त तक भी हार नहीं मानी थी। गुरुवार रात 9 बजे तक वह होश में थी। जब तक होश में थी कहती रही- मुझे जलाने वालों को छोड़ना मत। फिर नींद में चली गई, डॉक्टरों ने पूरी कोशिश की, वेंटिलेटर पर रखा लेकिन वो नींद से नहीं उठी। और फिर दुनिया छोड़ कर चली गई।

Chhattisgarh