सऊदी अरब का पाकिस्तान को झटका, गिलगित-बाल्टिस्तान और पीओके को नक्शे से हटाया

इस्लामाबाद। पाकिस्तान को बड़ा झटका देते हुए सऊदी अरब ने गिलगित बालटिस्तान और पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर को पाकिस्तान के नक्शे से अलग दिखाया है। मतलब की यह दोनों क्षेत्र स्वतंत्र देश के रूप में दिखाए गए हैं।

दरअसल जी-20 सम्मेलन 21 और 22 नवम्बर को रियाद में होने वाला है और इस बार सऊदी अरब इसकी अध्यक्षता करेगा। इस अवसर को यादगार बनाने के लिए सऊदी अरब सरकार ने 20 रियाल का बैंक नोट जारी किया है।

इसमें आगे की तरफ सऊदी किंग सलमान बिन अब्दुल अजीज का फोटो है और पीछे की तरफ दुनिया का नक्शा है। खास बात यह है कि इसमें कश्मीर को और गिलगित बालटिस्तान को पाकिस्तान का हिस्सा ना दिखाकर स्वतंत्र क्षेत्र के रूप में दिखाया गया है।

इस मौके पर पीओके के कार्यकर्ता अमजद अयूब मिर्जा ने बुधवार को ट्वीट कर कहा की सऊदी अरब का यह कदम भारत के लिए दिवाली का तोहफा है। विदेश मंत्रालय ने तथाकथित गिलगित बालटिस्तान में 15 नवम्बर को होने वाले चुनाव की रिपोर्ट की जानकारी ली थी और भारत ने इस पर सख्त आपत्ति जताई थी।

भारत सरकार का रुख जम्मू कश्मीर पर बिल्कुल साफ है और वह बार-बार कहता है कि पूरा जम्मू कश्मीर ,लद्दाख और तथाकथित गिलगित बालटिस्तान भारत के अभिन्न अंग है।

इमरान सरकार ने कुछ दिन पहले पाकिस्तान का नया नक्शा जारी किया था जिसमें भारत के कुछ क्षेत्र जैसे जूनागढ़ ,सरक्रीक, गुजरात के मानवदर ,जम्मू कश्मीर और लद्दाख के क्षेत्र पर अपना दावा किया था । यह नक्शा भारत सरकार के धारा 370 के हटाने के एक वर्ष पूर्ण होने पर जारी किया गया था।

Share With

Chhattisgarh