कार्यों में पारदर्शिता हो, योजनाओं का क्रियान्वयन और कार्यों की मॉनटरिंग बारिकी से करें: श्री भूपेश बघेल

मुख्यमंत्री ने राजनांदगांव सर्किट हाउस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने राजनांदगांव विधानसभा में भेंट-मुलाकात अभियान के अंतर्गत आज राजनंादगांव सर्किट हाउस में अधिकारियों की समीक्षा बैठक ली। उन्होंने कहा कि ऐसे अभियान का सबसे अधिक लाभ यह होता है कि हम जनता से रूबरू होते हैं और हमें जन समस्याओं की प्रत्यक्ष एवं वास्तविक जानकारी मिलती है। इसलिए हम इसका जल्द समाधान भी कर पाते हैं। इसे सर्वोच्च प्राथमिकता दें। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह ध्यान रखें कि आम जनता को अपने कार्यों के लिए भटकना न पड़े। शासन के कार्यों में पारदर्शिता हो। सबसे ज्यादा सरोकार इस बात से है कि आम लोगों के काम हो। साथ ही वे संतुष्ट भी हों। यह तभी संभव होगा कि शासकीय योजनाओं के क्रियान्वयन और कार्यों का मॉनिटरिंग लगातार हो। मुख्यमंत्री ने पैरादान की सराहना करते हुए कहा कि इसे निरंतर आगे बढ़ाते रहें।

मुख्यमंत्री ने बैठक में धान खरीदी की समीक्षा करते हुए बारदाने की स्थिति, भुगतान की जानकारी ली। अधिकारियों ने बताया कि बारदानें पर्याप्त संख्या में है और साथ ही किसानों को भुगतान भी 48 घंटे के भीतर हो रहा है। राजीव गांधी ग्रामीण भूमिहीन न्याय योजना की चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री ने कहा कि एक 80 साल के बुजुर्ग हितग्राही ने मुझे बताया कि उनके खाते में राशि आयी है और इस योजना से उसे लाभ भी हुआ है। उसके चेहरे में संतोष का भाव देखकर मुझे राहत मिली। यह सुनिश्चित करें कि ऐसी योजनाओं का अधिक से अधिक लोगों को लाभ मिले। मुख्यमंत्री ने ग्राम सुरगी में सड़कों की स्थिति की जानकारी ली और कहा कि ग्रामीण सड़क बहुत अच्छी बननी चाहिए। यह सर्वोच्च प्राथमिकता का कार्य होना चाहिए। साथ ही उन्होंने तेंदु पत्ता संग्राहकों को समय पर भुगतान के निर्देश दिए।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने कहा कि शहरी क्षेत्रों में स्ट्रीट लाइट सही स्थिति में होना चाहिए। यदि वह खराब हो तो उसे तत्काल सुधार करें, इसकी निरंतर मॉनिटरिंग करें। बीएनसी मिल के संबंध में उन्होंने कहा कि यहां पर कुछ गतिविधि प्रारंभ करें, जूट मिल भी शुरू किया जा सकता है। इसका बेहतर से बेहतर उपयोग करें और नेशनल टेक्सटाइल कॉरपोरेशन से चर्चा कर शीघ्र कार्य योजना बनाएं। मुख्यमंत्री ने चिटफंड कंपनियों की जानकारी ली। इस पर अधिकारियों ने बताया कि अब तक 15 करोड़ रूपए निवेशकों को वितरित हो चुके हैं। 6 करोड़ 92 लाख रूपए शीघ्र वितरित किए जायेंगे। श्री बघेल ने ग्राम सुकुलदैहान में कैमिकल फैक्ट्री से हो रहे नुकसान की शिकायत की वस्तुस्थिति पूछी और कहा कि यदि नियमों का उल्लंघन हो रहा हो तो नियमानुसार कार्यवाही की जाए। साथ ही उन्होंने कहा कि शैक्षिणिक सत्र पूर्ण होने में कुछ ही महीने शेष है। पूर्ण मनोयोग से कार्य करें। अभिभावकों का भी सहयोग लें ताकि बच्चों की पढ़ाई पर पूर्ण रूप से ध्यान दिया जा सके। सामूहिक रूप से कार्य करने पर निश्चित ही परिणाम अच्छे आयेंगे। इस अवसर पर कलेक्टर सहित अन्य अधिकारीगण उपस्थित थे।

इस अवसर पर संस्कृति मंत्री श्री अमरजीत भगत, छत्तीसगढ़ राज्य अन्य पिछड़ा वर्ग क्षेत्र विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष और डोंगरगांव विधायक श्री दलेश्वर साहू, छत्तीसगढ़ अनुसूचित जाति विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष और डोंगरगढ़ विधायक श्री भुनेश्वर शोभाराम बघेल, जिला सहकारी केन्द्रीय बैंक राजनांदगांव के अध्यक्ष श्री नवाज खान मुख्यमंत्री सचिव श्री अंकित आनंद एवं सभी अधिकारीगण उपस्थित थे।

Share With

Chhattisgarh