व्यवसाय

गिरावट के साथ बंद हुआ शेयर बाजार

मुंबई। दिग्गज कंपनियों में आखिरी समय में हुई मुनाफावसूली से बीएसई का सेंसेक्स मंगलवार को 188.26 अंक यानी 0.46 प्रतिशत लुढ़ककर करीब तीन सप्ताह के निचले स्तर 40,966.86 अंक पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 58.75 अंक यानी 0.48 प्रतिशत की गिरावट में 12,060.25 अंक पर बंद हुआ। यह निफ्टी और सेंसेक्स दोनों का 08 जनवरी के बाद का निचला स्तर है।

दिग्गज कंपनियों में शुरू में लिवाली रहने से दोपहर बाद तक हरे निशान में रहने के बाद आखिरी समय में रिलायंस इंडस्ट्रीज, टाटा स्टील, मारुति सुजुकी, आईसीआईसीआई बैंक, इंडसइंड बैंक और एक्सिस बैंक में हुई मुनाफा वसूली से अचानक दोनों प्रमुख सूचकांकों का ग्राफ लुढ़क गया। मझौली और छोटी कंपनियों पर शुरू से ही दबाव देखा गया। बीएसई का मिडकैप 0.52 प्रतिशत टूटकर 15,677.67 अंक पर और स्मॉलकैप 0.19 प्रतिशत की गिरावट में 14,822.28 अंक पर आ बंद हुआ।

बीएसई में दूरसंचार समूह में चार प्रतिशत से अधिक की गिरावट देखी गयी जबकि सेंसेक्स की कंपनियों में भारती एयरटेल के शेयर साढ़े चार फीसदी चढ़े। धातु समूह में ढाई प्रतिशत, ऊर्जा में डेढ़ प्रतिशत और बिजली, ऑटो तथा बुनियादी वस्तुओं में एक प्रतिशत से ज्यादा की तेजी रही। विदेशों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच सेंसेक्स 144.56 अंक की बढ़त में 41,299.68 अंक पर खुला और कुछ ही देर में 41,333.25 अंक तक पहुँच गया। दोपहर बाद तक यह हरे निशान में रहा।

इसके बाद बिकवाली शुरू होने से 40,869.75 अंक तक उतर गया। अंत में गत दिवस की तुलना में 188.26 अंक गिरकर 40,966.86 अंक पर बंद हुआ।बीएसई में कुल 2,706 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,542 के शेयर लाल निशान में और 990 के हरे निशान में रहे जबकि 174 कंपनियों के शेयर दिन भर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुये।

निफ्टी 29.10 अंक की तेजी में 12,148.10 अंक पर खुला। इसका दिवस का उच्चतम स्तर 12,163.55 अंक और निचला स्तर 12,024.50 अंक रहा। कारोबार की समाप्ति पर यह सोमवार के मुकाबले 58.75 अंक नीचे 12,060.25 अंक पर रहा। निफ्टी की 50 कंपनियों में से 36 के शेयर गिरावट में, 13 के बढ़त में और एक का अपरिवर्तित बंद हुआ।

Share With