Sep 29 2021 / 1:21 AM

जातिगत जनगणना की मांग को लेकर पीएम मोदी से मिले नीतीश कुमार

Spread the love

नई दिल्ली। जातिगत जनगणना की मांग को लेकर बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में आज बिहार के राजनीतिक दलों के प्रतिनिधि मंडल ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात की। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से मुलाकात के बाद मीडिया से बातचीत में नीतीश कुमार ने कहा कि हमसब लोगों ने जाति आधारित जनगणना के बारे में पीएम को पूरी जानकारी दी। हम सब का इस पर एकमत है। सरकार के मंत्री के बयान के बाद हमारे यहां लोगों के मन में बेचैनी शुरू हो गई, उसके बाद हमने पीएम से मुलाकात के बारे में सोचा।

नीतीश कुमार ने बताया कि प्रधानमंत्री ने सभी लोगों की बातें सुनी, हर व्यक्ति की बातें सुनी। हमें उम्मीद होगी इन चीजों पर सुनवाई होगी। उन्होंने हमारी बात को नकारा नहीं है, हमने कहा है कि इस पर विचार करके आप निर्णय लें।

राजद के नेता तेजस्वी यादव ने कहा कि जाति आधारित जनगणना राष्ट्रहित में है। अंतिम पायदान पर मौजूद व्यक्ति को भी इसका लाभ मिलेगा। जानवरों की गिनती होती है, पेड़ पौधों की भी गिनती होगी है, धर्म और एससी-एसटी के आधार पर भी जनगणना होगी है, जाति के आधार पर भी होनी चाहिए।

तेजस्वी यादव ने आगे कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हमारी बात गंभीरता से सुनी है, अब हम लोगों को उनके निर्णय का इंतज़ार है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी ने कहा कि हमने प्रधानमंत्री से कहा कि हर हालत में जातिगत जनगणना कराएं, ये ऐतिहासिक निर्णय होगा। उन्होंने बहुत गंभीरता से हमारी बात सुनी है इसलिए हमें लगता है कि जल्दी ही कोई निर्णय होगा।

Chhattisgarh