Sep 19 2021 / 12:31 AM

मोदी सरकार युवाओं और छात्रों की आवाज दबा रही है: सोनिया गांधी

Spread the love

नई दिल्ली। दिल्ली की जवाहर लाल नेहरू यूनिवर्सिटी (जेएनयू) में रविवार को हुई हिंसा पर कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बयान जारी किया है। सोनिया गांधी ने कहा है कि आज देश में युवाओं और छात्रों की आवाज को दबाया और उनका मजाक बनाया जा रहा है।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा है कि मोदी सरकार के संरक्षण में देश के युवाओं की आवाज को दबाकर गुंडों द्वारा हिंसा को बढ़ावा दिया जा रहा है। जेएनयू में हुई हिंसा पर सोनिया गांधी ने कहा कि कल जेएनयू में छात्रों-फैकल्टी पर हुआ हमला सरकार के द्वारा लोगों की असहमति की आवाज को दबाने के लिए याद किया जाएगा।

उन्होंने कहा, हम जेएनयू में कल प्रायोजित हिंसा की कड़ी निंदा करते हैं और इसकी स्वतंत्र न्यायिक जांच की मांग करते हैं। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी सरकार की शह पर पुलिस या असमाजिक तत्व देश के प्रत्येक शैक्षिक परिसर और कॉलेजों में घुस रहे हैं।

कल जेएनयू के अध्यापकों और छात्रों पर भयानक हमले किये गये जो इसका प्रतीक है कि सरकार असहमति की आवाज दबाने के लिए किसी भी हद तक जाएगी। उन्होंने कहा कि छात्रों और युवाओं को किफायती शिक्षा, उचित रोजगार, बेहतर भविष्य और लोकतंत्र में भागीदारी का अधिकार चाहिए लेकिन मोदी सरकार इन आकांक्षाओं से बचना और इनको घोट देना चाहती है।

बता दें कि रविवार को जेएनयू में दर्जनों नकाबपोश हमलावरों ने कैंपस में तोड़फोड़ की, छात्रों-फैकल्टी पर हमला किया। इस दौरान 30 से अधिक छात्र इस घटना में घायल हुए हैं। दिल्ली पुलिस ने इस मामले में जांच शुरू कर दी है और एफआईआर भी दर्ज की जा चुकी है।

Chhattisgarh