Sep 22 2021 / 2:04 PM

मोदी कैबिनेट का हुआ विस्तार, 15 कैबिनेट और 28 राज्यमंत्रियों ने ली शपथ

Spread the love

नई दिल्ली। मोदी सरकार के बारे में कहा जाता है कि अंतिम फैसले से पहले भनक मिलना मुश्किल होता है, पीएम मोदी के दूसरे कार्यकाल में पहली बार ये मंत्रिमंडल विस्तार हो गया है, इसमें कई युवा चेहरों, महिलाओं और पिछड़े वर्ग के लोगों को जगह मिली है वहीं कई अहम चेहरे कैबिनेट से आउट भी हुए हैं।

मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल में मंत्रिमंडल विस्तार में कई नए चेहरों को केंद्रीय मंत्री बनाया गया है। बता दें कि बुधवार की शाम राष्ट्रपति भवन में केंद्रीय मंत्री पद के लिए शपथ समारोह का कार्यक्रम हुआ। इस मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने नारायण तातू राणे, सर्बानंद सोनोवाल को केंद्रीय मंत्री पद की शपथ दिलाई।

वहीं राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मंत्रिमंडल विस्तार के दौरान जी.किशन रेड्डी, अनुराग सिंह ठाकुर, पंकज चौधरी, हरदीप सिंह पुरी, मनसुख मंडाविया, भूपेंद्र यादव, पुरुषोत्तम रुपाला, अश्विनी वैष्णव, पशुपति कुमार पारस, किरण रिजिजू, राज कुमार सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया, को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई।

पंकज चौधरी ने राज्य मंत्री पद की शपथ ली, वे यूपी के महाराजगंज से सांसद हैं, 2019 में छठी बार लोकसभा सांसद बने हैं। अनुप्रिया पटेल ने राज्य मंत्री पद की शपथ ली, एसपी सिंह बघेल ने भी राज्य मंत्री पद की शपथ ली, वहीं राजीव चंद्रशेखर ने राज्य मंत्री पद की शपथ ली है इसके अलावा शोभा करंदाजे को भी राज्य मंत्री बनाया गया है।

मोदी कैबिनेट के विस्तार की आधिकारिक प्रक्रिया से पहले ही कई मंत्रियों की छुट्टी कर दी गई। इसमें सबसे बड़ा नाम डॉ. हर्षवर्धन, रविशंकर प्रसाद, प्रकाश जावड़ेकर, बाबुल सुप्रियो, रमेश पोखरियाल निशंक का सामने आया है।

वहीं इनके साथ राव साहेब दानवे पाटिल, सदानंद गौड़ा, देबोश्री चौधरी, संतोष गंगवार, संजय धोत्रे, रतन लाल कटारिया और प्रताप सारंगी समेत 43 लोगों को इस्तीफा देने के लिए कहा गया। माना जा रहा है कि इन मंत्रियों के रिपोर्ट कार्ड को देखते हुए इन्हें मंत्री पद से इस्तीफा देने को कहा गया है।

राष्ट्रपति भवन की तरफ से आई जानकारी के मुताबिक भारत के राष्ट्रपति ने आईटी मंत्री रविशंकर प्रसाद, पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर, स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन, शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक और अन्य सहित मंत्रिपरिषद के 12 सदस्यों का इस्तीफा स्वीकार किया।

Chhattisgarh