Sep 17 2021 / 7:17 AM

सिल्वर मेडल के साथ भारत लौटीं मीराबाई चानू, दिल्ली एयरपोर्ट पर दिया गया गार्ड ऑफ ऑनर

Spread the love

नई दिल्ली। टोक्यो ओलिंपिक में सिल्वर पदक जीतने वाली भारतीय भारोत्तोलक मीराबाई चानू 26 जुलाई को भारत लौट आईं। दिल्ली एयरपोर्ट पर उनका जोरदार स्वागत किया गया। एयरपोर्ट स्टाफ ने भारत माता की जय के नारे लगाए। साथ ही उन्हें गार्ड ऑफ ऑनर भी दिया गया। इस दौरान मीरा की आरटी-पीसीआर जांच भी की गई। मीरा के साथ उनके कोच विजय शर्मा भी लौटे हैं।

‘खेलों के महाकुंभ’ टोक्यो ओलंपिक में भारत की शानदार शुरुआत हुई थी। दूसरे दिन ही भारत की झोली में पदक आ गया था। 24 जुलाई को वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू (49 किग्रा) ने रजत पदक जीतकर भारत का खाता खोल दिया था। चानू इस साल टोक्यो ओलंपिक में पदक जीतने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बनीं। बता दें कि मणिपुर की 26 साल की वेटलिफ्टर ने कुल 202 किग्रा (87 किग्रा + 115 किग्रा) का भार उठाकर रजत पदक अपने नाम किया था।

वेटलिफ्टिंग में चानू पदक जीतने वाली भारत की दूसरी एथलीट हैं। इससे पहले कर्णम मल्लेश्वरी ने 2000 सिडनी ओलिंपिक में कांस्या पदक जीता था। मीराबाई को पांच साल पहले रियो ओलंपिक में भी पदक का प्रबल दावेदार माना जा रहा था लेकिन वह महिलाओं के 48 किग्रा भार वर्ग में उतना का वजन उठाने में सफल नहीं रहीं थीं। चानू विश्व चैंपियनशिप में स्वर्ण, राष्ट्रमंडल खेलों में (2014 में रजत और 2018 में स्वर्ण) दो पदक और एशियाई चैंपियनशिप में कांस्य पदक जीत चुकी हैं।

वहीं मणिपुर के मुख्यमंत्री एन बिरेन सिंह ने सोमवार को ऐलान किया कि मीराबाई चानू को राज्य पुलिस में एडिशनल सुपरिटेंडेंट ऑफ पुलिस के पद पर नियुक्त किया जाएगा। इसके साथ ही उन्हें एक करोड़ रुपये भी दिए जाएंगे। मुख्यमंत्री ने मणिपुर में वर्ल्ड क्लास वेटलिफ्टिंग एकेडमी स्थापित करने का ऐलान भी किया।

Chhattisgarh