मध्यप्रदेश

पं. उपाध्याय ने अपने जीवन को यज्ञ की आहुति मे समर्पित कर भारतीय संस्कृति की पताका विश्व में फहराई : मुख्यमंत्री डॉ. यादव

मुख्यमंत्री ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर श्रद्धांजलि अर्पित की
हमारा सौभाग्य है कि प्रधानमंत्री श्री मोदी आज झाबुआ पधार रहे
मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने लालघाटी स्थित पं.उपाध्याय की प्रतिमा पर किया माल्यार्पण

भोपाल। मुख्यमंत्री डॉ. मोहन यादव ने पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर लालघाटी स्थित उनकी प्रतिमा पर माल्यार्पण कर पुष्पांजलि अर्पित की। मुख्यमंत्री डॉ. यादव ने कहा कि आज का दिन हम सबके लिए विशेष है। आज पं. दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि है, जिन्होंने जनसंघ की स्थापना से लेकर अंतिम सांस तक, अपने जीवन को यज्ञ में आहुति की तरह समर्पित करते हुए देश ही नहीं पूरी दुनिया में भारतीय संस्कृति की पताका फहराई और राजनीति का एक बड़ा दर्शन दिया। इस दर्शन को विश्व, एकात्मक मानव दर्शन के रूप में जानता है। गरीब से गरीब व्यक्ति के जीवन में बदलाव आये, उन्हें मूलभूत सुविधाएं उपलब्ध हों और उनका जीवन सफल हो ऐसे हर संभव प्रयास करना इस दर्शन का मूल भाव है। सभी के कल्याण के सुंदर विचार लेकर जिन्होंने राजनीतिक यात्रा का नेतृत्व किया ऐसे पंडित दीनदयाल उपाध्याय की स्मृति में समर्पण दिवस का आयोजन हम सबको गौरान्वित करने वाला है। डॉ. यादव ने संगठन द्वारा आरंभ आजीवन सहयोग निधि संग्रहण में अपना योगदान भी दिया।

विकास और जनकल्याण के लिए राज्य सरकार केन्द्र के साथ डबल इंजन की तरह चलने को तत्पर

डॉ. यादव ने कहा कि हम सब का सौभाग्य है कि आज झाबुआ में यशस्वी प्रधानमंत्री, वैश्विक नेता तथा सर्वाधिक लोकप्रिय श्री नरेंद्र मोदी पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर प्रदेश के पिछड़े क्षेत्र व आदिवासी अंचल झाबुआ पधार रहे हैं। श्री मोदी का मानना है कि पिछड़े से पिछड़े व्यक्ति के जीवन में बदलाव लाने के लिए उनके पास जाना होगा। आज झाबुआ में जनजातीय बंधुओं के बड़े कुंभ का आयोजन है। यशस्वी प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जीवन के सभी क्षेत्रों में विकास की जो कल्पना की है, वह धार-झाबुआ में भी वह सार्थक हो रही है, यह हम सबका सौभाग्य है धार-झाबुआ को तीन-तीन राजमार्ग मिले हैं, यह क्षेत्र सुपर एक्सप्रेस-वे के केन्द्र में रहेगा जहां से दिल्ली-मुंबई एक समान दूरी पर होगा। सभी क्षेत्रों को सड़क, हवाई यात्रा आदि की सुविधा समान रूप से मिले, यह प्रधानमंत्री श्री मोदी का विजन है, और हम इस विजन को लेकर केंद्र सरकार के साथ डबल इंजन की तरह चलने को तत्पर हैं।

डॉ. यादव ने कहा कि पंडित दीनदयाल उपाध्याय की पुण्यतिथि पर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित करते हुए ईश्वर से यही प्रार्थना है कि भारतीय संस्कृति की पताका संपूर्ण विश्व में फैले। इस अवसर पर मंत्री श्रीमती कृष्णा गौर, विधायक श्री रामेश्वर शर्मा पूर्व महापौर श्री आलोक शर्मा तथा श्री सुमित पचौरी सहित अन्य वरिष्ठ जनप्रतिनिधि उपस्थित थे।

Share With