Sep 29 2021 / 2:14 AM

मैं ऐसी कहानियों को लोगों के सामने रखता हूँ जिसमें अनिवार्य तौर पर इंडियन माइक्रोकॉज्म मौजू/वास्तविक होती है’: आयुष्मान खुराना

Spread the love

युवा बॉलीवुड स्टार आयुष्मान खुराना अपने काम और सोशल एंटरटेनर के रूप में वैश्विक स्तर पर सराहे जा रहे हैं। जिसकी वजह से भारत में और भारत को लेकर अहम बातचीत शुरू हो गई है। आयुष्मान अब भारत में यूनिसेफ का चेहरा हैं और टाइम पत्रिका ने भी उन्हें दुनिया के सबसे प्रभावशाली लोगों में चुना है। आयुष्मान को लगता है कि उन्होंने अपनी फिल्मों के माध्यम से भारत को सही ढ़ंग से सेलीब्रेट और रिप्रेजेंट किया है जिसको दुनिया भर में बातें हो रही हैं।

बैक टू बैक आठ हिट देने वाले आयुष्मान कहते हैं, “मैं उन कहानियों को दुनिया के सामने रखता हूँ जिनमें इंडियन माइक्रोकॉज्म अनिवार्य रूप से गहराई से जुड़ी होती है और हमारे सांस्कृतिक तौर विविध देश के वास्तविक लोगों और उनकी जिंदगियों के बारे में होती हैं। मुझे लगता है कि यही कारण है कि ये कहानियां न सिर्फ भारत में बल्कि विदेशों में रहने वाले भारतीयों या हमारे देश के बारे में ज्यादा जानने की इच्छा रखने वाले लोगों को पसंद आती हैं।”

आयुष्मान, ‘चंडीगढ़ करे आशिकी’ और ‘डॉक्टर जी’ जैसी अपने बहुप्रतीक्षित अगले प्रोजेक्ट्स के माध्यम से महत्वपूर्ण संदेश देना जारी रखेंगे। वह अनुभव सिन्हा निर्देशित ‘अनेक’ में भी नज़र आएंगे। आयुष्मान कहते हैं, “वैश्विक मंच पर अपने देश का अच्छी तरह से रिप्रेजेंट करना किसी के लिए भी सम्मान की बात है और अगर अपनी कंटेंट-ओरिएंटेड फिल्मों के माध्यम से मैं ऐसा कर पा रहा हूं तो ये मेरी खुशकिस्मती है।!”

Chhattisgarh