Sep 20 2021 / 10:06 PM

आइए जानते हैं कि एण्डटीवी के मशहूर कलाकार इस साल कैसे मनाएंगे गणेश चतुर्थी!

Spread the love

गणेश चतुर्थी का बहुप्रतीक्षित और जीवंत त्यौहार करीब आ गया है। इस अवसर पर हम बाप्पा की मूर्ति घर लेकर आते हैं, उनकी आरती करते हैं और बाप्पा के लिए स्वादिष्ट मोदक बनाते हैं। इन सभी बातों की वजह से यह त्योहार हम में से कई लोगों का पसंदीदा त्योहार बन गया है। एण्डटीवी के कलाकार भी गणेश चतुर्थी मनाने में पीछे नहीं है। वे सभी इसे लेकर बहुत उत्साहित हैं और उन्होंने इस साल यह त्योहार मनाने की अपनी योजनाओं के बारे में हमें बताया। इन कलाकारों में शामिल हैं – ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ के अक्षय म्हात्रे और मनीष अग्रवाल; ‘और भई क्या चल रहा है?‘ के अंबरीश बॉबी और अकांशा शर्मा तथा ‘भाबी जी घर पर हैं‘ के रोहिताश्व गौड़।

एण्डटीवी के ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ में वरुण अग्रवाल का किरदार अदा कर रहे अक्षय म्हात्रे कहते हैं, “मेरे पैतृक घर में हर समय सबसे बड़े गणपति महोत्सव का आयोजन होता है। इस बेहद महत्वपूर्ण अवसर पर पूरा परिवार इकट्ठा होता है। हालांकि, बीते साल से मैंने और मेरे पेरेंट्स ने मुंबई स्थित अपने घर पर बाप्पा को लाना शुरू किया है। हम अपने घर को बप्पा के भव्य प्रवेश के लिए तैयार कर रहे हैं और हम दूर्वा, फूल व उनके पसंदीदा मोदक से उनका स्वागत करेंगे। एक बार बाप्पा घर आ जाएं तो हम कभी भी उन्हें घर पर अकेले नहीं छोड़ते। मेरे परिवार के सदस्य और मैं बारी-बारी से जागे रहकर पालियों में बाप्पा का ख्याल रखते हैं। महामारी के कारण हम बहुत ज्यादा मेहमानों की मेजबानी नहीं करेंगे और अपने विस्तारित परिवार के सदस्यों तथा मित्रों के लिए वर्चुअल समारोह का आयोजन करेंगे और उनका आशीर्वाद मांगेंगे।”

एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है?‘ में रमेश प्रसाद मिश्रा की भूमिका निभा रहे अंबरीश बॉबी कहते हैं, “खुशी का यह अवसर नई शुरुआत के देवता भगवान गणेश का जन्म दिन है। बचपन से ही गणपति बाप्पा में मेरा दृढ़ विश्वास रहा है और मैं अपने दिन की शुरुआत उनका नाम लेकर करता हूं। गणेश चतुर्थी हम सबके लिए सबसे ज्यादा इंतजार किया जाने वाला त्यौहार है और हम हर साल इसे मनाते हैं। इस साल त्यौहारों की शुरुआत के लिए मैं अपने परिवार के साथ मिलकर सबसे पहले अपने घर को अच्छी तरह साफ करूंगा और इसे फूलों व दीयों से सजाउंगा। गणपति के लिए हम इक्कीस तरह की मिठाइयां तैयार करते हैं जिसे बाद में मित्रों और पड़ोसियों के बीच बांटा जाता है।”

एण्डटीवी के ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘, में मनीष अग्रवाल की भूमिका निभा रहे विशाल नायक कहते हैं, “मुझे मिठाइयां पसंद हैं और गणेश चतुर्थी के मौके पर ज्यादातर मिठाइयां बनती हैं। घर में बना चावल और गेहूं के आटे का मोदक हमेशा मेरे मुंह में पानी ला देता है और गणेश चतुर्थी के समय बदपरहेजी इसी कारण होती है। एक और कारण से मैं इस त्यौहार का इंतजार करता हूं। यह पूरा हफ्ता जीवंत रहता है, संगीत और नृत्य का आनंद मिलता है। हम एक विशेष भजन मंडली को आमंत्रित करते हैं जो शाम में पूजा करने आने वाले रिश्तेदारों के साथ आरती गाती है। यह देखने लायक दृश्य होता है। घर को फूलों की माला से सजाया जाता है और हर कोई नए व अच्छे कपड़ों में सजा-धजा होता है। मैं आप सबको गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएं देता हूं।”

एण्डटीवी के ‘और भई क्या चल रहा है?‘ में सकीना मिर्जा की भूमिका निभा रहीं अकांशा शर्मा कहती हैं, “गणेश चतुर्थी के अवसर पर मैं ऐसे दिनों का इंतजार करती हूं। मैं हमेशा गणेश और उनकी सीख से प्रभावित रही हूं। उनकी पूजा से मुझमें खुशी और शक्ति की भावना आती है। इस साल मैं उनके आशीर्वाद के लिए उपवास और पूजा कर रही हूं। मेरा यह सपना है कि जिस दिन मैं अपने लिए घर खरीदूंगी उस दिन सिद्धि विनायक मंदिर जाउंगी और उनकी पूजा करके उनके प्रति अपना सम्मान व्यक्त करूंगी। इस बार मैं मुंबई में होने वाले उत्साहपूर्ण आयोजनों से दूर हूं और उन्हें याद कर रही हूं। इस बार मैं अपना पसंदीदा त्यौहार लखनऊ में मनाउंगी।”

एण्डटीवी के ‘भाबीजी घर पर हैं!‘ के मनमोहन तिवारी यानी रोहिताश्व गौड़ कहते हैं, “मेरे घर में गणेश चतुर्थी मनाने की लंबी परंपरा रही है। हमेशा की तरह हम घर पर गणपति की मूर्ति बैठाने की परंपरा जारी रखेंगे। यह मूर्ति इको-फ्रेंडली होगी ताकि इससे पर्यावरण को कोई नुकसान न हो। मैं समझता हूं कि हमें पृथ्वी को सुरक्षित रखना चाहिए, इसलिए गणपति विसर्जन में भाग लेने के दौरान हमें इसके इको-फ्रेंडली विकल्पों से वाकिफ होना चाहिए। इस मौसम में मेरा परिवार और मैं खूब उत्साहित रहते हैं और मेहमानों को स्वादिष्ट भोजन कराना पसंद करते हैं और वर्चुअल सेटिंग्स को देखते हुए, हम पूजा में शामिल होने के इच्छुक लोगों के लिए एक जूम लिंक क्रिएट करेंगे। इस बार गणेश चतुर्थी पर मैं अपने परिवार और आस-पास के लोगों के स्वास्थ्य तथा खुशी के लिए प्रार्थना करता हूं।”

देखिए ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ रात 9ः00 बजे; ‘और भई क्या चल रहा है?‘ रात 9रू30 बजे और ‘भाबीजी घर पर हैं‘ रात 10रू30 बजे, हर सोमवार से शुक्रवार, सिर्फ एण्डटीवी पर

Chhattisgarh