Sep 20 2021 / 10:33 PM

IIIT के पहले दीक्षांत समारोह में शामिल हुए राज्यपाल उइके और सीएम बघेल, छात्राओं को बांटी डिग्रियां

Spread the love

रायपुर। नया रायपुर के इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इंफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी (IIIT) का आज पहला भव्य दीक्षांत समारोह का शुभारंभ राज्यपाल अनुसुइया उइके, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उच्च शिक्षामंत्री उमेश पटेल ने किया। यह दीक्षांत समारोह नए ऑडिटोरियम भवन में आयोजित किया गया। IIIT के दीक्षांत समारोह में शामिल हुए राज्यपाल अनुसुइया उइके, मुख्यमंत्री भूपेश बघेल, उच्च शिक्षामंत्री उमेश पटेल ने 2015 से 2019 तक के 69 छात्र छात्राओं को बांटी डिग्रियां बांटी है। इस समारोह में 2 को गोल्ड और 4 छात्रों को सिल्वर मेडल दिया गया।

दीक्षांत समारोह के मंच से सीएम भूपेश बघेल ने कहा कि इस संस्थान से 100 फीसदी प्लेसमेंट हो रहा, सभी छात्र-छात्राओं को बधाई, आज ये संस्थान नये आयाम गढ रहा है। विज्ञान से आज कई चमत्कार हो रहे हैं, घुटने तो घुटने दिल बदल रहे हैं, आगे लग रहा है कि दिल्ली से कोई आयेगा तो सामने पानी के बदले ओक्सिजन का बोतल रहेगा। विज्ञान के साथ-साथ चुनौतियां भी बढ़ रही है, फ्लाईएश को लेकर रिसर्च करना चाहिए, पराली को लेकर सब परेशान हैं। छत्तीसगढ में अनेक संभावनाएं है। यहां अपार संपदा है। आप सब के सामने पूरा आकाश है जितना चाहे उड़ सकते हैं छत्तीसगढ़ सरकार आप के साथ हैं।

राज्यपाल ने अपने सम्बोधन में कहा कि गर्व का और आनंद का क्षण है कि आज पहला दीक्षांत समारोह है। ट्रिपल आईटी जैसे संस्थान हमारे राज्य का गौरव है। आप लोगो के बीच आकर गहरी खुशी हुई है। मार्क जुकरबर्ग और सुंदर पिचचाई जैसे लोगो ने कई खोज और नई चीजें दी है। भारत के लोग विदेशों के बड़े बड़े कंपनियों में सीईओ के पद पर है। आज तकनीकी के क्षेत्र में उन्नति हो रही है। नए क्षेत्रो में शोध होता रहे। छात्र स्वरोजगार की ओर बढ़ रहे हैं।

ये हैं चार मेडलिस्ट

ओवरऑल टॉपर श्रीकांत गुप्ता, कसडोल
चेयरमैन गोल्ड मेडल और बेस्ट प्रोजेक्ट अवॉर्ड पाने वाले शशांक कोटियान रायपुर
बेस्ट सीजीपी अवॉर्ड हासिल करने वालीं अंकिता अश्पिल्लया और श्रृष्टि अग्रवाल भी रायपुर से ही हैं।

Chhattisgarh