Sep 17 2021 / 6:50 AM

ग्लोबल इनवेस्टर्स मीट ‘इनवेस्टगढ़ छत्तीसगढ़ 2022’ जनवरी में

Spread the love

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 02 सितंबर को करेंगे औपचारिक घोषणा

लोगो और वेबसाइट की लांचिंग भी होगी

राज्य सरकार की नयी औद्योगिक नीति से निवेश के लिए बना वातावरण

पौने तीन साल में 132 एमओयू के जरिये 58, 950 करोड़ रुपए का पूंजी निवेश प्रस्तावित, 1564 नयी औद्योगिक इकाइयां हुई स्थापित

रायपुर। छत्तीसगढ़ में निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए राजधानी रायपुर में ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट 2022 “इंवेस्टगढ़ छत्तीसगढ़” का आयोजन जनवरी 2022 में किया जा रहा है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल 02 सितंबर को रायपुर स्थित अपने निवास कार्यालय में आयोजित कार्यक्रम में इसकी औपचारिक घोषणा करेंगे। इस अवसर पर मुख्यमंत्री इनवेस्टगढ़-छत्तीसगढ़ का लोगो और वेबसाइट भी लांच करेंगे।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की अगुवाई में छत्तीसगढ़ वाणिज्य एवं उद्योग विभाग द्वारा ग्लोबल इन्वेस्टर्स मीट 2022 “इंवेस्टगढ़ छत्तीसगढ़” का आयोजन 27 जनवरी 2022 से 01 फरवरी 2022 तक रायपुर में किया जाएगा। इसके माध्यम से विश्व के प्रमुख निवेशक-समुदायों, ग्लोबल कंपनियों, बिजनेस लीडरों, केंद्र और राज्य सरकार के अधिकारियों, स्थानीय व्यवसायियों, व्यापरिक एवं निवेशक संगठनों, सप्लायरों, डिस्ट्रीब्यूटरों, बिजनेस इनोवेटरों, विचारकों, उद्यमियों को एक-दूसरे के नजदीक आने का अवसर मिलेगा।

वर्ष 2018 में छत्तीसगढ़ में नयी सरकार के गठन के बाद नये औद्योगिक और आर्थिक वातावरण का निर्माण हुआ है। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल की नेतृत्ववाली सरकार ने नयी उद्योग नीति का निर्माण कर कृषि और वन आधारित उद्योगों को प्राथमिकता देने के साथ-साथ निवेश के लिए अनुकूल वातावरण के निर्माण के लिए विशेष पैकेज और रियायतें दी हैं। साथ ही उद्योगों की स्थापना तथा संचालन के नियमों का भी सरलीकरण किया है। वर्ष 2019-20 एवं 2020-21 में राज्य में नये उद्योगों की स्थापना के लिए 132 एमओयू किए गए हैं, जिसमें 58 हजार 950 करोड़ का पूंजी निवेश प्रस्तावित है। इससे 78 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिलेगा। राज्य में इस अवधि में 1564 नयी औद्योगिक इकाइयां स्थापित हुई हैं, जिसमें 30 हजार से अधिक लोगों को रोजगार मिला है।

इस समिट के दौरान छत्तीसगढ़ में निवेश के लाभ, परस्पर सहयोग, पार्टनरशिप और व्यावसायिक उन्नति की उन संभावनाओं पर बातचीत की जाएगी, जिसके जरिये राज्य का विकास और तीव्रता से हो पाए। साथ ही समिट के जरिये राज्य के निवासियों के लिए अच्छे वेतनवाली नौकरियां पाने, कार्यकुशलता निखारने एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर की कंपनियों के साथ स्पर्धा करते हुए व्यवसायों को आगे बढ़ाने के लिए संभावनाओं की तलाश की जा सकेगी।

मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल कहते हैं – “मैं छत्तीसगढ़ में आयोजत हो रहे इस इनोवेटिव इनवेस्टमेंट मीट की मेजबानी के लिए बहुत उत्सुक हूं। वे कहते हैं- विश्व की अर्थव्यवस्था अब कोविड के संकट से उबर रही है, ऐसे समय में वैश्विक निवेशकों के लिए छत्तीसगढ़ एक मजबूत विकल्प हो सकता है। छत्तीसगढ़ में निवेश उनकी वैश्विक गतिविधियों के संचालन और आर्थिक क्षतिपूर्ति का जीवंत जरिया बन सकता है। छत्तीसगढ़ में सभी प्राकृतिक संसाधन हैं। यहां ग्लोबल कंपनियों के लिए प्रचुर मात्रा में बिजली, अच्छी कनेक्टिविटी, इज ऑफ डूइंग बिजनेस के फायदों के साथ प्रतिस्पर्धा में बने रहने और निरंतर उन्नति करने रहने के अच्छे अवसर हैं।” उन्होंने कहा कि मैं इनोवेटिव समिट के दौरान छत्तीसगढ़ के सार्वजनिक और निजी क्षेत्रों में निवेश के नये और उत्साहजनक अवसरों को प्रस्तुत करने के लिए उत्सुक हूं।

इनवेस्टमेंट मीट 2022 चार बड़े क्षेत्रों- एग्रीकल्चर, माइनिंग, हैवी इंजीनियरिंग एंड फेब्रिकेशन और ग्रीन एनर्जी- में विकास के अवसरों को प्रस्तुत करने का मौका होगा। इन सभी सेक्टरों का अलग-अलग पैवेलियन होगा, जिनमें इनमें से प्रत्येक क्षेत्र में उपलब्ध नेचुरल रिसोर्सेस, यूनिक प्रोसेसेस, सस्टेनेबल रिसोर्सेस, इनोवेटिव वर्किंग मॉडल, वर्क-फोर्स, क्लाइमेटिक एडवांटेज, एडवांस्ड टेक्नोलॉजी सहित बहुत कुछ प्रदर्शित होगा। राज्य सरकार इस मौके पर निवेश को प्रोत्साहित करने के लिए नीतिगत निर्णयों, अनुदानों, रियायतों की घोषणाएं भी करेगी, जो छत्तीसगढ़ में व्यापार के लिए अच्छे वातावरण के निर्माण में सहायक होंगे।

समिट के दौरान राज्य सरकार स्थानीय कंपनियों और उद्योगों के लिए “गो-ग्लोबल” की पहल भी करेगी, जिससे वे वैश्विक स्तर पर अपने व्यवसाय के प्रसार के लिए वैश्विक निवेशक समुदायों के साथ सहयोग और परामर्श की संभावनाएं तलाश सकेंगे।

इनवेस्ट मेंट समिट- “इनवेस्टगढ़ छत्तीसगढ़”- रायपुर के मेला मैदान में 27 जनवरी 2022 से 01 फरवरी 2022 तक आयोजित किया जाएगा। आयोजन के सूत्रधार WEEXPOINDIA द्वारा वैश्विक कंपनियों और आर्थिक-संगठनों को विभिन्न बिन्दुओं पर सूचनाएं, जानकारियां तथा मार्गदर्शन उपलब्ध कराया जाएगा।

  1. सूत्रधार WEEXPOINDIA द्वारा छत्तीसगढ़ में निवेश से होने वाले लाभ को लेकर प्रमोशन किया जाएगा
  2. छत्तीसगढ़ और देश के व्यापारिक वातावरण को समझने में प्रतिभागियों की मदद करेगा। उनकी जिज्ञासाओं का समाधान करेगा।
  3. शंकाओं का समाधान करते हुए उनकी बाधाओं को दूर करने में मदद करेगा।
  4. वैश्विक प्रतिस्पर्धी व्यापार के क्षेत्रों के चयन के संबंध में निर्णय लेने में मदद करेगा। इसके साथ ही साथ राज्य की नीति, प्रक्रिया, नियमों और नियमन के बारे में मार्गदर्शन देगा।
  5. जो कंपनियां राज्य में पहले से निवेश कर चुकी हैं, उन्हें भी निरंतरता बनाए रखने के लिए सहयोग प्रदान करेगा।
  6. रोजगार के अवसरों को बढ़ाने तथा अर्थव्यवस्था में निर्यात की हिस्सेदारी में इजाफा करने के लिए एफडीआई अनुपात को बढ़ाने में सहयोग करेगा।

विश्व बैंक की वर्ष 2021 की इज ऑफ डूइंग बिजनेस रैंकिंग में देश के 36 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में छत्तीसगढ़ छटवें स्थान पर है। इससे यहां व्यापर के वातावरण में जैसा सकारात्मक बदलाव हो रहा है, वैसा पहले कभी नहीं हुआ। राज्य सकल घरेलू उत्पाद में निरंतर वृद्धि के साथ छत्तीसगढ़ राज्य इनवेस्टगढ़- छत्तीसगढ़ समिट के माध्यम से वैश्विक निवेशों का उपयोग करते हुए व्यापार और उद्योग के क्षेत्र में एक आदर्श और सकारात्मक बदलाव के लिए तैयार है।

Chhattisgarh