Sep 20 2021 / 11:19 PM

भारतीय टेलीविजन पर पहली बार अग्रसेन महाराज के सिद्धांतों पर आधारित कहानी ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ एण्डटीवी पर!

Spread the love

ज़ी स्टूडियोज द्वारा प्रोड्यूस इस शो में कई बेहतरीन कलाकार अपने अभिनय का जलवा बिखेरेंगे, इसमें गेंदा के रूप में श्रेणू पारीख, कुंदन अग्रवाल के किरदार में साई बल्लाल, अग्रसेन महाराज के रूप में समीर धर्माधिकारी, गेंदा के पति वरुण अग्रवाल के रूप में अक्षय म्हात्रे, मनीष अग्रवाल के किरदार में विशाल नायक, निशा अग्रवाल के रूप में केनिशा भारद्वाज, संतोष की भूमिका में यामिनी सिंह और अनुराधा अग्रवाल के रूप में अर्चना मित्तल जैसे एक्टर्स नजर आयेंगे! शो का प्रीमियर एण्डटीवी पर 10 अगस्त, 2021 को रात 9 बजे होगा, इसका प्रसारण हर सोमवार से शुक्रवार किया जायेगा्

नेशनल, 10 अगस्त, 2021: सामाजिक-पौराणिक कहानियां सदियों से भारतीय संस्कृति का अभिन्न हिस्सा रही हैं। इनमें महान राजाओं, रानियों और देवताओं की कहानियों की एक विशाल श्रृंखला है। अपने दर्शकों के लिये अद्भुत और मनोरंजन से भरपूर कहानियां पेश करने के प्रयासों की कड़ी में इस बार एण्डटीवी लेकर आया है अपना नया फिक्शन शो ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘। इस शो को ज़ी स्टूडियोज ने प्रोड्यूस किया है, जिसमें कई बेहतरीन कलाकार अपने अभिनय का जलवा बिखेरते नजर आयेंगे। इसमें गेंदा के रूप में श्रेणू पारीख, कुंदन अग्रवाल के किरदार में साई बल्लाल, अग्रसेन महाराज के रूप में समीर धर्माधिकारी, गेंदा के पति वरुण अग्रवाल के रूप में अक्षय म्हात्रे, मनीष अग्रवाल के किरदार में विशाल नायक, निशा अग्रवाल के रूप में केनिशा भारद्वाज, संतोष की भूमिका में यामिनी सिंह और अनुराधा अग्रवाल के रूप में अर्चना मित्तल जैसे एक्टर्स शामिल हैं! इस शो का प्रीमियर एण्डटीवी पर 10 अगस्त, 2021 को रात 9 बजे होगा इसका प्रसारण हर सोमवार से शुक्रवार किया जायेगा।

‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ भारतीय टेलीविजन पर पहली बार प्रसारित होने वाला एक अनूठा सोशल ड्रामा है। इसकी कहानी महान राजा, अग्रसेन महाराज के सिद्धांतों पर आधारित है। अग्रसेन महाराज व्यापारियों के अग्रवाल समुदाय के संस्थापक थे। उनकी सीख और सिद्धांत आज के दौर में भी उतने ही उपयोगी हैं और हमारा मार्गदर्शन करते हैं। इस कहानी में महाराज अग्रसेन के मुख्य सिद्धांतों को उनकी परम भक्त और शो की नाायिका गेंदा के नजरिये से दिखाया गया है। गेंदा साधारण परिवार की एक आज्ञाकारी लड़की है, जिसकी शादी एक व्यापारी परिवार में हो जाती है। इस कहानी में महाराज अग्रसेन और उन पर अटूट आस्था रखने वाली उनकी भक्त के बीच के खूबसूरत रिश्ते को दर्शाया गया है। वह उन्हें अपना विचारक, मार्गदर्शक और सखा मानती है। जीवन में गेंदा को कई परेशानियों का सामना करना पड़ता है लेकिन महाराज अग्रसेन के विचारों से प्रेरणा लेकर वह उन मुश्किलों से लड़कर उभरती है। यह शो आस्था, परिवार और जीवन की दिल छू लेने वाली दिलचस्प कहानी लेकर आया है।

इस शो के बारे में विष्णु शंकर, बिजनेस हेड, एण्डटीवी ने कहा, ‘‘इस चुनौतीपूर्ण समय में हमें आगे बढ़ने में जो चीज मदद करती है वह हैं हमारे सिद्धांत, हमारी धारणायें और सबसे महत्वपूर्ण हमारा परिवार। हमें टेलीविजन स्क्रीन पर पहली बार ऐसा सोशल-माइथोलाॅजिकल ड्रामा लाकर बहुत खुशी हो रही है जिसमें महान अग्रसेन महाराज की कहानी दिखाई गई है। उनके सिद्धांत एवं सीख सदियों बाद भी आज के समय में बेहद प्रासंगिक हैं। भले ही वे अग्रवाल समुदाय के संस्थापक हों लेकिन उन्होंने जो शिक्षायें दी थी, वो सभी के लिये हैं। हमारा शो ‘घर एक मंदिर – कृपा अग्रसेन महाराज की‘ धार्मिक निष्ठा, परिवार और जिंदगी की एक दिलचस्प कहानी है।‘‘

अंशुल खुल्लर, बिजनेस हेड, ज़ी स्टूडियोज कहते हैं, ‘‘ज़ी स्टूडियोज के माध्यम से हम एण्डटीवी पर ‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की‘ नाम से एक अनोखा शो लाॅन्च कर रहे हैं। इससे पहले महान राजा अग्रसेन महाराज को लेकर कोई कहानी दिखायी नहीं गयी है। यह शो टेलीविजन पर अपनी तरह की पहली कहानी है, जोकि हमारी नायिका गेंदा अग्रवाल के माध्यम से अग्रसेन महाराज के सरल और प्रासंगिक सिद्धांतों से आपको रूबरू करायेगी। यह गेंदा के भावनात्मक सफर की कहानी है। इसमें दिखाया गया है कि वह किस तरह अपनी आस्था के बल पर जीवन की हर परेशानी से लड़ती है। हमें उम्मीद है दर्शक खुले दिल से अग्रवाल परिवार का स्वागत करेंगे और 10 अगस्त को आॅन एअर होने के साथ हमें ढेर सारा प्यार देंगे।‘‘

गेंदा अग्रवाल के किरदार के बारे में श्रेणू पारीख कहती हैं, ‘‘गेंदा एक साधारण परिवार की आम लड़की है, जिसकी शादी कुंदन अग्रवाल के सबसे छोटे बेटे वरुण अग्रवाल से होती है। वरुण की मानसिक हालत अच्छी नहीं है। उनकी गहनों की एक पुश्तैनी दुकान है अग्रवाल एंड सन्स। गेंदा काफी गहराई से अपने संस्कारों से जुड़ी है और अपने परिवार को बचाने के लिये किसी भी हद तक जा सकती है। वह अग्रसेन महाराज के चार मुख्य सिद्धांतों को सुनते और उनका पालन करते हुये बड़ी हुई है। उनके विचारों की मदद से ही वो जीवन से जुड़ी मुश्किलों से बाहर निकल पाती है। उनके साथ गेंदा का बड़ा ही अनोखा और खूबसूरत सा रिश्ता है। वह उसके मार्गदर्शक, विचारक और सखा हैं।‘‘

वरुण अग्रवाल का किरदार निभा रहे अक्षय म्हात्रे कहते हैं, ‘‘वरुण, गेंदा का पति है और अग्रवाल परिवार का सबसे छोटा और सबसे लाडला बेटा है। वह अग्रवाल परिवार की ‘आंखों का तारा‘ है। वरुण काफी मिलनसार है, जो किसी भी तरह का तनाव नहीं लेता। वो कोई भी काम करने से ज्यादा खुद का ख्याल रखने में या फिर वीडियो गेम्स खेलने में अपना वक्त बिताता है। उसे अच्छा लगता है कि कोई उसे लाड़-प्यार करे और वह चाहता है कि उसकी पत्नी उसका पूरा ध्यान रखे। वरुण को अपने पिता के फैमिली बिजनेस पर बहुत गर्व है और उसे लगता है, बाहर काम किये बिना भी ऐशो-आराम की जिंदगी जी जा सकती है।‘‘

अग्रसेन महाराज का किरदार निभा रहे समीर धर्माधिकारी कहते हैं, “अग्रसेन महाराज जैसा अहम किरदार निभाना मेरे लिये गर्व की बात है। उन्होंने अग्रवाल समाज की नींव रखी थी। गेंदा, अग्रसेन महाराज की परम भक्त है और अपनी आस्था के बल पर जीवन में बहुत सारी चुनौतियों को पार कर लेती है। लोगों को अग्रसेन महाराज के बारे में जानकारी तो है, लेकिन परदे पर उनकी कहानी को बहुत कम दिखाया गया है, खासकर हिंदी जनरल एंटरटेनमेन्ट चैनलों पर। कई मायनों में यह शो अपने आप में अनूठा है। इसकी कहानी अलग और नई है। मुझे यकीन है कि यह शो दर्शकों को आकर्षित करेगा और उनके दिलों को छू जायेगा।”

कुंदन अग्रवाल का किरदार निभा रहे साई बल्लाल कहते हैं, “कुंदन अग्रवाल पेशे से एक व्यवसायी है,जो पुश्तैनी गहनों की दुकान, अग्रवाल एंड सन्स का मालिक है। उनके दो बेटे हैं- मनीष और वरुण। कुंदन एक फैमिली मैन है और हमेशा अपने बच्चों और अपने परिवार की भलाई के बारे में सोचता है। परिवार के साथ-साथ, उन्हें पीढि़यों से चले आ रहे अपने गहने बनाने के बिजनेस से भी बहुत प्यार है। जाहिर-सी बात है वह चाहते हैं कि उनके बेटे अब कारोबार की बागडोर संभाल लें। कुंदन मुखर स्वभाव का है और उसकी अपनी सोच है, जिसे गलत नहीं ठहराया जा सकता।‘‘

अनुराधा अग्रवाल के किरदार को निभाने वाली अर्चना मित्तल कहती हैं, “अनुराधा एक गृहिणी है जिसका लक्ष्य परिवार के मूल्यों को बनाये रखना है। अपने पति कुंदन से भी उसके मधुर संबंध है और वह बखूबी घर संभालती है। अनुराधा चाहती है, उसके बेटे खूब तरक्की करें और अपने पिता की तरह बिजनेसमैन बनें। उसकी बहुएं भी उसके नक्शेकदम पर चलते हुये परिवार की देखभाल करें। वह पारंपरिक सोच वाली है और समय के साथ बदलने में विश्वास नहीं करती।‘‘

मनीष अग्रवाल का किरदार निभा रहे विशाल नायक कहते हैं, “मनीष, कुंदन अग्रवाल का सबसे बड़ा बेटा और पुश्तैनी बिजनेस की बागडोर संभालने की उनकी सबसे बड़ी उम्मीद भी है। वह बहुत पढ़ा लिखा, महत्वाकांक्षी और आधुनिक विचारों वाला इंसान है, जिसका झुकाव फैमिली बिजनेस के बजाय कॉर्पोरेट नौकरी की तरफ ज्यादा है। मनीष एक फैमिली मैन है और वह अपने पिता के बिजनेस का सम्मान करता है। हालांकि, दिल ही दिल में कुछ बड़ा करने के सपने देखता रहता है लेकिन कभी-कभी अपने पिता द्वारा उसके सपनों और ख्वाहिशों को न समझ पाना उसे बागी बना देता है।“

निशा अग्रवाल का किरदार निभा रहीं केनिशा भारद्वाज कहती हैं, ’’निशा, मनीष की पत्नी और गेंदा की जेठानी है। वह एक खुशमिजाज लड़की है जो अपनी जिंदादिली से घर को रोशन कर देती है। बड़े सपने और ख्वाहिशों वाली निशा का ताल्लुक एक छोटे शहर से है। वह अपने पति की ख्वाहिशों में उसके साथ है।“

संतोष का किरदार निभा रहीं यामिनी सिंह कहती हैं, ’’संतोष, गेंदा की मां है और हर मां की तरह वह भी हमेशा अपनी बेटी के भविष्य को लेकर चिंतित रहती है और चाहती है उसके लिए सबकुछ बहुत अच्छा हो। वह अपनी बेटी की खूबियों और अग्रसेन महाराज में उसके अटूट विश्वास से अच्छी तरह वाकिफ है।

‘घर एक मंदिर-कृपा अग्रसेन महाराज की’ का प्रीमियर 10 अगस्त 2021 को रात 9 बजे एण्डटीवी पर किया जायेगा, इसका प्रसारण हर सोमवार से शुक्रवार होगा

Chhattisgarh