Sep 20 2021 / 10:49 PM

मैं कश्मीरी पंडित हूं, जम्मू-कश्मीर आने पर लगता है घर जैसा: राहुल गांधी

Spread the love

नई दिल्ली। कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने जम्मू में कहा है कि वे और उनका परिवार कश्मीरी पंडित है। राहुल गांधी ने कहा कि जब भी वे जम्मू-कश्मीर आते हैं तो ऐसा लगता है कि अपने घर पर आया हूं। राहुल गांधी ने कश्मीरी पंडितों को लेकर कहा कि वे उनकी सहायता करेंगे।

राहुल गांधी फिलहाल जम्मू-कश्मीर के दौरे पर हैं और शुक्रवार को जम्मू में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए उन्होंने यह बयान दिया है। गुरुवार को राहुल गांधी कटरा में माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए गए थे और रात को भी वहीं पर रुके थे।

जम्मू में कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए राहुल गांधी ने कहा, जम्मू-कश्मीर में जब भी मैं आता हूं तो मुझे लगता है कि घर आया हूं, वही बात में आपको कहना चाहता हूं, कल मैं वैष्णो देवी जी के दर्शन के लिए गया और मुझे ऐसे लगा कि मैं घर आया हूं, मैं भी मेरा परिवार भी कश्मीरी पंडित है, तो मैं आपसे कहना चाहता हूं कि मैं जो भी बात कहता हूं मैं झूठ नहीं बोलता हूं, कश्मीरी पंडित जो भाई हैं उनको मैं कह रहा हूं कि मैं आपकी मदद करूंगा।

राहुल गांधी ने कहा, आपको ‘राज्य का दर्जा’ मिलना चाहिए। जब हम कहते हैं कि हमने ‘भोजन का अधिकार’ दिया, मनरेगा दिया, अस्पताल बनाए, तो ये हम कौन हैं? कांग्रेस, लेकिन कांग्रेस कौन? ‘कांग्रेस के कार्यकर्ता’ ये काम कांग्रेस के कार्यकर्ताओं ने किया।

बता दें राहुल गांधी दो दिवसीय दौरे पर गुरुवार को जम्मू पहुंचे थे। इस दौरान उन्होंने रियासी जिले में त्रिकुटा पहाड़ी पर स्थित माता वैष्णो देवी के मंदिर जाकर पूजा-अर्चना की। जम्मू हवाई अड्डे पर पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष का पार्टी नेताओं ने उनका स्वागत किया था।

दौरे के पहले दिन उनका कोई राजनीतिक कार्यक्रम प्रस्तावित नहीं था। शुक्रवार को पूर्वाह्न 11 बजे से अपराह्न साढ़े बारह बजे तक गांधी, जम्मू के त्रिकुटा नगर में जे के रिजॉर्ट्स में पार्टी कार्यकर्ताओं से मिले। भोजन के दौरान पार्टी के वरिष्ठ नेताओं से मुलाकात करने के बाद वह साढ़े तीन बजे की उड़ान से दिल्ली वापस जाएंगे।

Chhattisgarh