Sep 20 2021 / 10:23 PM

कांग्रेस और अकाली दल ने पीएम मोदी की सर्वदलीय बैठक का किया बहिष्कार

Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज सर्वदलीय बैठक भी बुलाई गई है। बैठक से पहले ही विपक्षी पार्टी कांग्रेस और अकाली दल ने इसाक बहिष्कार किया है। दरअसल वैक्सीन नीति को लेकर लगातार आलोचना हो रही है ऐसे में मोदी सरकार ने विपक्ष को विश्वास में लेने के साथ ही अब जवाब देने का भी फेसला किया है।

सर्वदलीय बैठक शाम 6 बजे संसद भवन की एनेक्सी बिल्डिंग में बुलाई गई है। इस बैठक में दोनों सदनों में सभी दलों के प्रमुखों को बुलाया गया है। जानकारी मिली है कि बैठक में केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण देश में अबतक हुए कोरोना टीकाकरण और इस मुद्दे पर सरकार की नीति को लेकर एक विस्तृत प्रेजेंटेशन देंगे।

अकाली दल के अध्यक्ष सुखबीर सिंह बादल ने कहा कि उनकी पार्टी तभी इस बैठक में हिस्सा लेगी, जब वे (पीएम) किसानों के मुद्दों पर चर्चा के लिए बैठक बुलाएंगे। सुखबीर सिंह बादल ने कहा, यह चौंकाने वाली बात है कि उन्होंने किसानों के मुद्दों पर चर्चा के लिए कोई बैठक नहीं बुलाई। गरीब किसान एक लड़ाई लड़ रहे हैं और सरकार उन्हें पूरी तरह नजरअंदाज कर रही है। हम इस बैठक में हिस्सा नहीं लेंगे।

वहीं कांग्रेस ने भी कहा है कि वह मंगलवार को कोविड-19 पर सभी पार्टियों के सदन के नेताओं के साथ होने वाली सरकार की बैठक में शामिल नहीं होगी। राज्यसभा में विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि कांग्रेस बैठक का बहिष्कार नहीं कर रही है, बल्कि वह इसमें शरीक नहीं हो रही है क्योंकि वह चाहती है कि सरकार संसद के दोनों सदनों में तथ्य प्रस्तुत करे।

खड़गे ने कहा, हमारा कहना है कि सिर्फ सदन के नेताओं को बुलाने के बदले सभी सांसदों को सेंट्रल हॉल में बुलाएं। सभी को बोलने दिया जाए। हमने कहा था कि इसे दो स्लॉट में किया जाए। हम इसमें शामिल नहीं हो रहे हैं, क्योंकि सभी को कोविड की स्थिति के बारे में जानकारी दी जानी चाहिए।

इससे पहले संसद के मानसून सत्र के दूसरे दिन भी विपक्षी दलों ने कोविड प्रबंधन, तेल की कीमतों, कृषि कानूनों और इजरायली स्पाइवेयर पेगासस के जरिए कथित जासूसी की जांच कराने की मांग को लेकर सरकार को घेरने की कोशिश की और संसद के दोनों सदनों में हंगामा किया। हंगामे के बीच लोकसभा की कार्यवाही गुरुवाह सुबह 11 बजे तक स्थगित कर दी गई।

Chhattisgarh