Nov 28 2021 / 4:53 PM

मुख्यमंत्री ने श्री गजानन माधव मुक्तिबोध को उनकी जयंती पर किया याद

Spread the love

रायपुर। मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल ने हिन्दी के प्रसिद्ध साहित्यकार श्री गजानन माधव मुक्तिबोध को उनकी 13 नवम्बर को जयंती पर याद करते हुए नमन किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि श्री गजानन माधव मुक्तिबोध ने साहित्य की कई विधाओं में अपनी लेखनी से अमिट छाप छोड़ी। कवि, आलोचक, निबंधकार, कहानीकार तथा उपन्यासकार के रूप में उन्होंने पाठकों को अमूल्य साहित्य दिया। उनकी लेखनी में उनके तेज और प्रखर विचारधारा का जीवंत साक्ष्य मिलता है। उन्हें प्रगतिशील कविता और नयी कविता के बीच का एक सेतु भी माना जाता है।

श्री बघेल ने कहा कि हमारे लिए यह गर्व की बात है कि हिन्दी साहित्य के सशक्त हस्ताक्षर और इस युग के महान कवि गजानन माधव मुक्तिबोध जी की कर्मभूमि छत्तीसगढ़ की संस्कार-धानी राजनांदगांव रही। उनकी स्मृतियों को संजोए रखने के लिए शासन ने राजनांदगांव में सृजन संवाद एवं मुक्तिबोध स्मारक संग्रहालय और त्रिवेणी परिसर के जीर्णोद्धार का काम प्राथमिकता के साथ किया है।

Chhattisgarh