Sep 21 2021 / 2:23 PM

मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने बीजापुर को दी 291 करोड़ के विकास कार्यों की सौगात

Spread the love

रायपुर। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल शनिवार को बीजापुर जिला मुख्यालय में आयोजित कार्यक्रम में 291 करोड़ रूपए के विकास कार्यों की जिलेवासियों को सौगात दी। उन्होंने इस अवसर पर जिला चिकित्सालय बीजापुर में सिटी स्कैन मशीन, इकोकार्डियोग्राफी, एक्स-रे और सोनोग्राफी सुविधा का शुभारंभ किया।

सीएम बघेल ने इस अवसर पर सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र उसूर और गंगालूर के लिए दो नई एम्बुलेंस को हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। मुख्यमंत्री अस्पताल में भर्ती मरीजों से भी चर्चा की। इस मौके पर राजस्व एवं प्रभारी मंत्री जयसिंह अग्रवाल, उद्योग मंत्री कवासी लखमा, सांसद दीपक बैज व पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष मोहन मरकाम, विधायक विक्रम मंडावी आदि उपस्थित थे। जिले को उन्होंने कुल 291 करोड़ रुपए के विकास कार्यों की सौगात दी।

सीएम बघेल ग्राम पंचायत मूसालूर के ग्राम नुकनपाल भी पहुंचे। यहां उन्होंने 3 एकड़ में निर्मित गोठान का अवलोकन कर ग्रामीणों से बातचीत की। ग्रामीणों ने बताया कि लगभग 200 जानवर गोठान में लाए गए है। स्व सहायता समूह की महिलाओं ने बताया कि लगभग 5-6 क्विंटल खाद बनाई गई है। इस दौरान मुख्यमंत्री ने स्व सहायता समूह की महिलाओं को वर्मी खाद बनाने की सलाह दी और कहा कि गोबर से पैसा बनाया जा सकता है।

सीएम बघेल ने पशु चिकित्सा विभाग के अधिकारियों से कहा कि गायों की नस्ल सुधार के लिए आवश्यक काम करें। उन्होंने विभाग के उप संचालक को बुलाकर इस संबंध में किए जा रहे प्रयास की जानकारी ली। उप संचालक कांबले ने बताया कि 15 गोठानों में कृत्रिम गर्भाधान का कार्य किया गया है। विभागीय मद से 927 पशुओं का कृत्रिम गर्भाधान किया गया है। मुख्यमंत्री बघेल ने ग्रामीणों से कहा कि पैरा जलाना नहीं है। गोठानों में पैरादान करना है। खेती किसानी के लिए यूरिया पोटाश नहीं डालना पड़ेगा। गोबर की खाद से ही पर्याप्त फसल व आय होगी।

इस मौके पर ग्रामीणों ने उन्हे कजरीफूल जवाफूल तीखूर व अन्य जैविक उत्पाद सीएम बघेल को भेंट किए। वहीं सीएम बघेल ने उद्यानिकी विभाग द्वारा प्रदान किए गए नारियल व आम के पौधों का गोठान में रोपण किया। इससे पहले धनोरा स्थित हेलीपेड पहुंचे मुख्यमंत्री बघेल का स्वागत संभागायुक्त अमृत खलकों, कलेक्टर केडी कुंजाम, पुलिस अधीक्षक दिव्यांग पटेल व पार्टी पदाधिकारियों ने किया।

Chhattisgarh