Oct 26 2021 / 10:10 AM

पंजाब के नए सीएम होंगे चरणजीत सिंह चन्नी, निर्विरोध चुना गया विधायक दल का नेता

Spread the love

चंडीगढ़। पंजाब राजनीति उथल-पुथल के बीच आखिरकार रविवार को मुख्यमंत्री का चेहरा बदल गया। शनिवार को कैप्टन अमरिंदर सिंह के इस्तीफे के बाद विधायक दल की सहमति से कांग्रेस पार्टी हाई कमांड ने चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर मुहर लगा दी है। चरणजीत सिंह जल्द ही पंजाब के नए मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेगें। ये कैप्टन सरकार में मंत्री रह चुकें हैं। पंजाब कांग्रेस के प्रभारी हरीश रावत ने ट्विट कर ये जानकारी दी है।

इस फैसले ने सबको चौंका दिया है। इससे पहले सुखजिंदर रंधावा मुख्यमंत्री की दौड़ में सबसे आगे बताए जा रहे थे। ध्यान देने वाली बात है कि विधायक दल की बैठक खत्म होने के बाद से ही गहमा-गहमी लगी हुई थी। पंजाब कांग्रेस प्रभारी हरीश रावत शनिवार को कहा था कि फैसला पार्टी हाई कमांड पर छोड़ा गया है। कांग्रेस की ये परंपरा रही है कि विधायक दल की बैठक के बाद फैसला विधायक दल की तरफ से कांग्रेस प्रेसिडेंट ही लेते हैं।

बता दें कि चरणजीत सिंह सिख दलित चेहरा हैं। उन्हें अब पंजाब की कमान सौंपी गई है। पंजाब कांग्रेस नेता सुखजिंदर सिंह रंधावा ने उनके सीएम बनने पर खुशी जताई है। उन्होंने कहा कि चरणजीत सिंह चन्नी मेरे छोटे भाई है। इसके साथ ही उन्होंने हाईकमान के फ़ैसले का स्वागत किया। रंधावा ने साफ किया कि वह आज भी ताकतवर नेता हैं और कल भी रहेंगे।

चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब कांग्रेस के सीनियर दलित सिख नेता है। उनको राहुल गांधी का करीबी माना जाता है। कांग्रेस ने दूसरी बार किसी दलित को सीएम की कुर्सी पर बिठाया है। इससे पहले कांग्रेस ने राजस्थान में जगन्नाथ पहाड़िया को सीएम बनाया था। चन्नी को सीएम बनाने के साथ ही पंजाब में जारी सस्पेंस अब खत्म हो गया है। आलाकमान ने अपना फैसला सुना दिया है। वहीं विधायक दल की बैठक में उन्हें निर्विरोध सीएम चुना गया है।

Chhattisgarh