Sep 20 2021 / 10:23 PM

सीबीएसई ने घोषित किए कक्षा 12वीं के रिजल्ट, पीएम मोदी ने छात्रों को दी बधाई

Spread the love

नई दिल्ली। केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) ने 12वीं का रिजल्ट घोषित कर दिया है जिसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बच्चों को बधाई दी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) की परीक्षा में उत्तीर्ण होने वाले छात्रों को बधाई दी और उनके बेहतर भविष्य की कामना की। साथ ही उन्होंने उन छात्रों की भी हौसलाआफजाई की जिनका प्रदर्शन बेहतर नहीं रहा और उन्हें अनुभवों से सीखने तथा सिर उठाकर जीने की सलाह दी।

प्रधानमंत्री ने ट्वीट कर कहा, 10वीं और 12वीं की सीबीएसई परीक्षा में उत्तीर्ण मेरे युवा साथियों को बधाई। मैं आप सभी के उज्जवल भविष्य की कामना करता हूं। मोदी ने कहा कि जो इन परिणामों से खुश नहीं हैं उनसे वे कहना चाहते हैं कि एक परीक्षा यह परिभाषित नहीं करती कि वे कौन हैं। उन्होंने कहा, आप सभी में प्रतिभा कूट-कूट कर भरी हुई है। जिंदगी को जी भर कर जियें। उम्मीद का दामन कभी मत छोड़िये, हमेशा भविष्य की ओर देखिए। आप सब चमत्कार करोगे।

सीबीएसई ने सोमवार को 12वीं कक्षा के परीक्षा परिणाम घोषित किए थे। इसमें लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत लड़कों की तुलना में 5.96 प्रतिशत बेहतर रहा। इस वर्ष 12वीं कक्षा में कुल 88.78 प्रतिशत विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए, जबकि 2019 में इसका प्रतिशत 83.40 प्रतिशत था। यानी, पिछले साल की तुलना में इस साल 5.38 प्रतिशत अधिक विद्यार्थी उत्तीर्ण हुए।10वीं कक्षा में लड़कियों के उत्तीर्ण होने का प्रतिशत लड़कों की तुलना में 3.17 प्रतिशत अधिक रहा और कुल 91.46 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए।

जो छात्र सीबीएसई की 12वीं कक्षा के रिजल्ट का इंतजार कर रहे हैं, वो अपना रिजल्ट बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट CBSE.GOV.IN या फिर cbseresults.nic.in पर जा कर अपना रिजल्ट देख सकते हैं।

इस वर्ष 10वीं कक्षा में कुल 91.46 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए, जबकि 2019 में 91.10 प्रतिशत छात्र उत्तीर्ण हुए थे। यानी, पिछले साल की तुलना में इस साल 0.36 प्रतिशत अधिक छात्र उत्तीर्ण हुए। इस साल लड़कियों का उत्तीर्ण प्रतिशत 93.31 रहा, जबकि लड़कों का उत्तीर्ण प्रतिशत 90.14 रहा। ट्रांसजेंडर का उत्तीर्ण प्रतिशत 78.95 रहा। 10वीं कक्षा की परीक्षा में 41,804 छात्रों को 95 प्रतिशत से अधिक अंक मिले, जबकि 1,84,358 छात्रों ने 90 प्रतिशत से अधिक अंक हासिल किए।

Chhattisgarh