May 24 2022 / 2:45 PM

बुद्ध पूर्णिमा 2022: जानें शुभ मुहूर्त और महत्व

Spread the love

वैशाख महीने की पूर्णिमा बुद्ध पूर्णिमा कहलाती है। इस साल बुद्ध पूर्णिमा 16 मई को मनाई जाएगी। मान्यता है कि वैशाख माह की पूर्णिमा के दिन ही गौतम बुध का जन्म हुआ था। इनकी जन्म तिथि पर बुद्ध पूर्णिमा में मनाई जाती है। बौद्ध धर्म के अनुयायियों के लिए यह दिन किसी उत्सव से कम नहीं होता। वही हिंदू धर्म से जुड़ी मान्यताओं के अनुसार, गौतम बुद्ध को भगवान विष्णु का नौवां अवतार भी कहा जाता है। ऐसे में यह दिन हिंदुओं के लिए भी बेहद महत्वपूर्ण है। इस दिन श्रीहरि की पूजा के साथ-साथ चंद्र देव की भी पूजा की जाती है।

शुभ मुहूर्त

बुद्ध पूर्णिमा का शुभ मुहूर्त 15 मई, दोपहर 12: 45 मिनट से शुरू – 16 मई, 9 :45 मिनट तक रहेगा।

पूजा विधि

बुद्ध पूर्णिमा के दिन जल्दी उठकर स्नानादि करें और फिर भगवान सूर्य को जल अर्पण करें। इस दिन भगवान सूर्य को तिल का जल अर्पण करने का अत्यंत महत्व है। वहीं इस दिन भगवान विष्णु की प्रतिमा या चित्र के सामने पूजा की जाती है और चंद्र देव के दर्शन करना अत्यंत ही फलदायक माना जाता है।

महत्व

बुद्ध पूर्णिमा व्रत अति महत्वपूर्ण होता है। कहते हैं इस दिन ब्रह्म मुहूर्त में उठकर स्नानादि करके भगवान सूर्य के सामने जल अर्पण करके व्रत करने का संकल्प किया जाता है। लेकिन बुद्ध पूर्णिमा का व्रत चंद्र दर्शन के बिना अधूरा माना जाता है। मान्यता है कि इस दिन भगवान विष्णु और चंद्र देव की पूजा करने से अत्यंत फल प्राप्त होता है। वहीं दान दक्षिणा से भी दोगुना फल प्राप्त होता है।

Chhattisgarh