Sep 17 2021 / 6:54 AM

भाई-बहन में हुआ प्यार, मंदिर में जाकर रचा ली शादी

Spread the love

नई दिल्ली। भाई-बहन की शादी के बारे में सोचने वालों को भी हेय निगाह से देखा जाने लगता है। शादी करने की बात तो दूर की है। लेकिन आदिकाल से चली आ रही इस रीति को उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के मोहम्मदी में भाई-बहन ने तोड़ दिया है। दोनों को एक-दूसरे से प्यार हुआ तो मंदिर में जाकर शादी रचा ली। शादी के बाद दोनो का घर में या रिश्तेदारी में जाना संभव नहीं था। दोनों ने घर छोड़कर भागने की सोची और दिल्ली के लिए ट्रेन पकड़ने ही वाले थे कि पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

भाई की सगी बहन से शादी चर्चा का विषय बनी हुई है। दोनों साथ रहने की कसमें खाकर दिल्ली जाने की फिराक में शाहजहांपुर पहुंचे जहां जीआरपी पुलिस ने आईडी की मांग की तो दोनों सकपका गए। जीआरपी पुलिस ने उसे मोहम्मदी पुलिस को सौंप दिया। पिता ने पुलिस को शिकायती पत्र देकर कार्रवाई की गुहार लगाई है। ये मामला यहां खासा चर्चा का विषय बना हुआ है।

मालूम हो कि गांव में एक भाई को अपनी बहन से प्रेम हो जाने पर उसने सामाजिक रिश्तों को तार-तार करते हुए उसे ले जाकर लखनऊ के एक मंदिर में बहन की मांग भरकर पत्नी बना लिया और उसे दिल्ली ले जाने की फिराक में शाहजहांपुर रेलवे स्टेशन पर पहुंचा। शनिवार को इस जोड़े को जीआरपी शाहजहांपुर ने कड़ाई से पूछताछ की और आईड़ी की मांग की, जिससे दोनों सकपका गए तो उन्होंने अपना सारा राज उगल दिया। जीआरपी ने उनके परिजनों का मोबाइल नंबर लेकर बातचीत की और मोहम्मदी पुलिस को सूचना दी।

इस पर मोहम्मदी पुलिस उन्हें कोतवाली ले आई और उनके माता पिता को सूचित किया। पिता ने पुलिस को तहरीर देकर अपने पुत्र के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है। पुलिस ने पुत्री को पिता की सुपुर्दगी में दे दिया है जबकि पुत्र को हिरासत में ले लिया है। उधर इस कलयुगी घटना से मां बाप और रिश्तेदारों का भी सर शर्म से झुक गया है। वहीं दूसरी ओर बहन अपने भाई के साथ ही रहने की जिद पर अड़ी हुई है।

उसने यह भी धमकी दी है कि उसका रिश्ता कहीं अन्यत्र किया गया तो वह अपना जीवन समाप्त कर लेगी। सभी लोग उसके निर्णय से असमंजस और परेशान है। इस घटना की क्षेत्र में सर्वत्र चर्चा हो रही है। परिवार में इस लडके के अलावा चार बहनें हैं दो बहनों की शादी हो चुकी है। इंस्पेक्टर संजय त्यागी ने बताया कि लड़के के खिलाफ शांति भंग की कार्रवाई की गई है।

Chhattisgarh