देश

ओवैसी का पीएम मोदी पर निशाना, कहा- इस्लाम में शादी कॉन्ट्रैक्ट, हिंदूओं में जन्म का साथ, आप सबको….

नई दिल्ली। ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुस्लिमीन के चीफ असदुद्दीन ओवैसी ने कॉमन सिविल कोड, ट्रिपल तलाक और पसमांदा मुस्लिमों पर टिप्पणी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा, पीएम मोदी को यह समझने की जरूरत है कि अनुच्छेद 29 एक मौलिक अधिकार है, मुझे लगता है प्रधानमंत्री को यह समझ नहीं आया। संविधान में धर्मनिरपेक्षता की बात है। इस्लाम में शादी एक कॉन्ट्रैक्ट है, हिंदुओं में जन्म-जन्म का साथ है। क्या आप सबको मिला देंगे? भारत की विविधता को वे एक समस्या समझते हैं।

हैदराबाद से सांसद ओवैसी ने कहा कि पीएम मोदी को पाकिस्तान से इतनी मोहब्बत क्यों है? उन्हें अपनी सोच का सॉफ्टवेयर बदलना चाहिए। भारत के मुसलमान को पाकिस्तान, मिस्र से क्या करना है? आप क्या उन्हें बड़ा और हमें कम समझ रहे हैं क्या? यह तो देश विरोधी बात है।

ओवैसी ने कहा, डिफरेंट सेट ऑफ रूल्स: हिन्दू डिवाइडेड सेट टैक्स रिबेट सिर्फ हिन्दुओं को क्यों मिला? क्या ये राइट टू इक्वलिटी के खिलाफ नहीं है क्या। आर्टिकल 29 फंडामेंटल राइट है, पीएम को समझना चाहिए। बेसिक स्ट्रक्चर का हिस्सा है। इस्लाम में शादी कॉन्ट्रैक्ट है, क्रिश्चियन में ईडू बोलते हैं, हिन्दू जन्म जन्म का साथ कहते हैं। पोलरिसम और डायवरसिटी को UCC के लिए छोड़ देंगे। हिन्दू अनडिवाइडिड फैमिली राइट को रद्द करो।

ओवैसी ने कहा, मणिपुर को नही जा पा रहे हैं, आप 371 की बात कर रहे हैं। गुजरात में हिन्दू मुसलमान को घर नहीं बेच सकता। हिमाचल की किसान की जमीन को कोई बाहर राष्ट्र के लोग नहीं खरीद सकते। पंजाब में जा कर कहिए। मुस्लिम को टारगेट कर रहे हैं। ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड ने कहा है कि आवश्यक धार्मिक प्रथाएं अगर लेकर आए तो कुरान की आयत को ओवररूल कैसे करेंगे।

Share With