देश

विकसित भारत के निर्माण में लक्षद्वीप की बहुत बड़ी भूमिका: पीएम मोदी

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दक्षिण भारत के अपने दौरे के दूसरे दिन लक्षद्वीप पहुंचे. जहां उन्होंने 1,156 करोड़ रुपये की लागत से कई विकास परियोजनाओं का उद्घाटन और शिलान्यास किया। साथ ही उन्होंने एक कार्यक्रम को संबोधित किया।

उन्होंने कहा कि आजादी के बाद दशकों तक केंद्र में जो सरकारें रहीं उनकी प्राथमिकता सिर्फ अपने राजनीतिक दल का विकास था। जो दूर-सुदूर के राज्य हैं, जो बॉर्डर पर हैं या जो समुद्र के बीच में हैं, उनकी तरफ ध्यान नहीं दिया जाता था। बीते 10 वर्षों में हमारी सरकार ने जो बॉर्डर के इलाके हैं जो समुद्र के छोर के इलाके हैं, हमने उन्हें अपनी प्राथमिकता बनाया है।

पीएम मोदी ने कहा कि भारत के हर क्षेत्र और हर नागरिक का जीवन आसान बनाना और उसे सुविधा से जोड़ना ही केंद्र सरकार की प्राथमिकता है। आज यहां लगभग 1200 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण हुआ है। ये इंटरनेट, बिजली, पानी, स्वास्थ्य और बच्चों से जुड़ी परियोजनाएं हैं। इन सभी स्वास्थय परियोजनाओं के लिए आप सभी को बहुत-बहुत बधाई।

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने हज यात्रियों की सहूलियत के लिए जो प्रयास किया है उसका भी लाभ लक्षद्वीप के लोगों को मिला। हज यात्रियों के लिए वीजा नियमों को आसान बनाया गया है। हज से जुड़ी ज्यादातर कार्रवाई अब डिजिटल होती है। सरकार ने महिलाओं को बिना महरम हज जाने की भी छूट दी है। इन्हीं सब प्रयासों की वजह से उमराह के लिए जाने वाले भारतीयों की संख्या में भारी वृद्धि हुई है।

पीएम मोदी ने कहा कि, आजादी के अमृतकाल में विकसित भारत के निर्माण में भी लक्षद्वीप की बहुत बड़ी भूमिका है, भारत सरकार लक्षद्वीप को इंटरनेशनल टूरिज्म मैप पर प्रमुखता से लाने का प्रयास कर रही है। हाल में ही में जी20 की जो मीटिंग हुई है। उससे लक्षद्वीप को अंतरराष्ट्रीय पहचान मिली है। स्वदेश दर्शन योजना के तहत लक्षद्वीप के लिए डेस्टिनेशन स्पेसिफिक मास्टर प्लान बनाया जा रहा है।

पीएम मोदी ने कहा कि आज यहां लगभग 1,200 करोड़ रुपये के प्रोजेक्ट्स का शिलान्यास और लोकार्पण हुआ है। ये इंटरनेट, बिजली, पानी, स्वास्थ्य और बच्चों की देखभाल से जुड़े प्रोजेक्ट्स हैं।2020 में मैंने आपको गारंटी दी थी कि 1,000 दिन में आप तक तेज इंटरनेट की सुविधा पहुंच जाएगी। आज कोच्चि-लक्षद्वीप सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर प्रोजेक्ट का लोकार्पण हो गया है। अब लक्षद्वीप में भी 100 गुना अधिक स्पीड से इंटरनेट चल पाएगा।

Share With