Oct 26 2021 / 12:08 PM

राजनीति से संन्यास की घोषणा के बाद बाबुल सुप्रियो ने थामा टीएमसी का दामन

Spread the love

नई दिल्ली। हाल ही में केंद्रीय मंत्रिमंडल से हटाए गए भाजपा के पश्चिम बंगाल से लोकसभा सांसद बाबुल सुप्रियो ने भाजपा को बॉय-बॉय कर दिया है। भाजपा सासंद और पूर्व केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने आज पश्चिम बंगाल में तुणमुल कांग्रेस के राष्ट्रीय महासचिव और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी और पार्टी के राज्यसभा सांसद डेरेक ओ ब्रायन की मौजूदगी में ममता बनर्जी की पार्टी का दामन थाम लिया।

दरअसल, मोदी सरकार के मंत्रिमंडल में हाल ही में हुए फेरबदल में बाबुल सुप्रियो को मंत्रिपद से हटा दिया गया था। मंत्रिपद से हटाए जाने के बाद बाबुल ने उस समय राजनीति से सन्यास लेने का ऐलान कर दिया था। लेकिन भाजपा के बड़े नेताओं को उसी समय से यह अंदाजा हो गया था कि बाबुल पार्टी छोड़ सकते हैं और आखिरकार बाबुल ने इस अंदेशे को सही साबित करते हुए राजनीति से सन्यास लेने की बजाय भाजपा को छोड़कर ममता दीदी के साथ जाने का फैसला किया।

पश्चिम बंगाल से दो बार लोकसभा का चुनाव जीते सुप्रियो उन मंत्रियों की लिस्ट में शामिल थे, जिन्हें 7 जुलाई को एक बड़े फेरबदल के बाद केंद्रीय मंत्रिपरिषद से हटा दिया गया था। पिछले विधानसभा चुनाव में उन्होंने तृणमूल कांग्रेस के अरूप बिस्वास के खिलाफ विधानसभा चुनाव लड़ा था जिसमें उन्हे हार का सामना करना पड़ा था।

बता दें कि शनिवार को ही यह खबर आई थी कि केंद्रीय गृह मंत्रालय ने बाबुल सुप्रियो को मिले सुरक्षा कवर को जेड से घटाकर वाई श्रेणी का कर दिया है। हालांकि बाबुल सुप्रियो के इस नए फैसले के बाद अब देखना यह होगा कि क्या वो भाजपा सांसद के तौर पर लोकसभा से इस्तीफा देंगे या गेंद भाजपा के पाले में डाल देंगे कि वो लोकसभा अध्यक्ष के पास जाकर उनकी सदस्यता रद्द करने की याचिका दायर करे।

Chhattisgarh