बिहार विधानसभा में हंगामा, आपस में भिड़े विधायक और मंत्री

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 25-02-2020 / 5:31 PM
  • Update Date: 25-02-2020 / 5:31 PM

पटना। सीएए को काला कानून बताने पर बिहार विधानसभा में सत्ताधारी और विपक्ष के सदस्य आमने-सामने आ गए। जमकर दोनों पक्षों के बीच बवाल होता देख विधानसभा अध्यक्ष ने 15 मिनट के लिए सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी। इतना ही नहीं ,राजद विधायक भाई वीरेंद्र और भाजपा कोटे से मंत्री प्रमोद कुमार के बीच हाथापाई तक हो गई।

बिहार विधानसभा की मंगलवार को कार्यवाही शुरू होने पर प्रतिपक्ष के नेता तेजस्वी ने एनपीआर को लेकर विपक्षी दलों की ओर से लाए गए कार्यस्थगन प्रस्ताव पर सबसे पहले चर्चा कराए जाने और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इसको लेकर स्थिति स्पष्ट किए जाने की मांग की। तेजस्वी ने सीएए को ‘काला कानून, संविधान विरोधी और देश को तोड़ने वाला’ करार दिया।

इस पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के मंत्री विजय कुमार सिन्हा ने कहा कि तेजस्वी संविधान का अपमान कर रहे हैं। उन्होंने तेजस्वी से अपने कथन को वापस लिए जाने की मांग करते हुए कुछ कहा, जिस पर विपक्षी सदस्यों ने आपत्ति जताई। विपक्षी और सत्तापक्ष के सदस्यों के बीच नोकझोंक शुरू हो गई।

बीजेपी के मंत्री नंदकिशोर यादव और विजय कुमार सिन्हा ने यह कहते हुए विपक्ष पर कटाक्ष किया कि क्या संसद एक काला कानून पारित करती है? विपक्षी और सत्तापक्ष के सदस्यों के हंगामे के चलते अध्यक्ष ने सदन की कार्यवाही 15 मिनट के लिए स्थगित कर दी।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF