नवरात्रि और दशहरे पर छाएं ये दो मजेदार ट्वीट, क्या आपने पढ़ें

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 02-10-2017 / 3:32 PM
  • Update Date: 02-10-2017 / 3:32 PM

नई दिल्ली। केंद्र सरकार द्वारा जारी विशिष्ट पहचान पत्र आधार कार्ड आज हर भारतीय के जिंदगी का महत्वपूर्ण हिस्सा बन गया है। लेकिन शनिवार को दशहरे के मौके पर रावण और आधार को लेकर यूआईडीएआई का ट्वीट खासा चर्चा का विषय बन गया है।

हुआ यूं कि यूआईडीएआई ने शनिवार को ट्वीट कर लोगों को दशहरे की बधाई दी, इस ट्वीट का रिप्लाई करते हुए एक यूजर ने पूछा कि क्या रावण के लिए भी आधार कार्ड होना जरूरी है? अगर हां तो क्या रावण के 10 सिर होने के कारण उसके 10 आधार कार्ड बनेंगे?

यूआईडीएआई ने जवाब दिया कि नहीं रावण को कोई आधार कार्ड नहीं मिल सकता, क्योंकि वह भारत का नागरिक नहीं था। इसके बाद इस ट्वीट को हजारों लोगों रीट्वीट किया। एक और यूजर ने सवाल पूछा कि दुर्गा मां के बहुत सारे हाथ होते हैं तो उनके लिए कितने फिंगरप्रिंट्स की जरूरत होगी?

एक यूजर ने यूआईडीएआई की टीम की तारीफ करते हुए कहा कि यूआईडीएआई  की सोशल टीम को इस सवाल के जवाब पर एक पैकेट जलेबी मिलनी चाहिए। कई लोगों ने इस ट्वीट पर रिफ्यूजियों से जुड़े सवाल भी पूछे। इस ट्वीट को छह हजार से अधिक लोगों अब तक लाइक कर चुके हैं और करीब 4,807 बार इसे रीट्वीट किया जा चुका है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF