CAA पर बोले ट्रंप- धार्मिक स्वतंत्रता को लेकर भारत अच्छा काम कर रहा है

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 25-02-2020 / 6:51 PM
  • Update Date: 25-02-2020 / 6:51 PM

नई दिल्ली। भारत के दो दिनों के दौरे पर आए अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने कहा मंगलवार शाम प्रेस कांफ्रेस में कहा कि हमने यहां अच्छा समय बिताया। हमारी बैठकें काफी अच्छी रहीं। यह एक शानदार देश है। उन्होंने कहा कि ये यात्रा मेरे और मेरे परिवार के लिए यादगार रहेगी। भारत में हमारे दो दिन बहुत शानदार गुजरे हैं। इस दौरान पीएम मोदी के साथ सकारात्म बातचीत हुई।

पत्रकारों से बातचीत के दौरान ट्रंप ने कहा कि भारत एक सचमुच महान देश है। इस वक्त भारत-अमेरिका के रिश्ते सबसे अच्छे हैं। दोनों देशों के द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा हुई है। हमने कई मुद्दों पर विचार किया है। हम भारत के साथ आपसी संबंधों को बढ़ावा देना चाहते हैं। हम पूरे विश्व में शांत चाहते हैं। अफगानिस्तान में शांति लाने की दिशा में काम जारी है। कोई बेगुनाह नहीं मारा जाना चाहिए।

ट्रंप ने कहा इस्लामिक आतंकवाद ना फैले इस दिशा में हम प्रयासरत है। सीरिया में जो हुआ उसे पूरे विश्व ने देखा। हम इसे रोकने के दिशा में काम कर रहे हैं। आतंकवाद पर नकेल कसने के लिए हमने कई कदम उठाए हैं। रेडिकल इस्लाम जड़ से खत्म करने का प्रयास जारी है। इसके लिए सभी देशों को मदद के लिए आगे आना चाहिए। इसे लेकर पाकिस्तान पर दबाव बनाने की कोशिश की जा रही है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान ट्रंप से दिल्ली हिंसा पर भी सवाल पूछा गया। इस पर उन्होंने कहा कि पीएम मोदी से इस मसले पर कोई बात नहीं हुई। ट्रंप ने कहा कि भारत में सबको धार्मिक आजादी है। बाकी देशों के मुकाबले भारत ज्यादा धार्मिक है। धार्मिक आजादी की दिशा में भारत अच्‍छा काम कर रहा है। इस पीएम मोदी से बातचीत भी हुई है।

उत्तर पूर्वी दिल्ली और सीएए को लेकर हिंसा पर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि हमने धार्मिक स्वतंत्रता के बारे में बात की थी। पीएम ने कहा कि वह चाहते हैं कि लोगों को धार्मिक स्वतंत्रता मिले। उन्होंने इस पर वास्तव में कड़ी मेहनत की है। मैंने व्यक्तिगत हमलों के बारे में सुना लेकिन मैंने इसकी चर्चा नहीं की। यह भारत पर निर्भर है।

भारत में मुस्लिम समुदाय के साथ भारत की सरकार मिलकर काम कर रही है और यहां इस समय 20 करोड़ मुस्लिम हैं जबकि कुछ समय पहले यहां 14 करोड़ मुस्लिम थे। प्रधानमंत्री मोदी सबकी धार्मिक स्वतंत्रता चाहते हैं और इस दिशा में काम हो रहा है।

अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने संवाददाता सम्मेलन में कहा, प्रधानमंत्री मोदी एक शानदार नेता हैं। भारत बहुत सारे सैन्य हार्डवेयर खरीद रहा है। भारत एक ‘अद्भुत देश’ है। H-1B वीजा पर ट्रंप ने कहा कि इसको लेकर पीएम मोदी से बातचीत हुई थी। आतंकवाद के खिलाफ भारत-अमेरिका एक हैं। आतंकवाद को लेकर पीएम मोदी काफी सशक्त हैं। हम चाहते हैं कि भारत-पाकिस्तान करीब आएं। इसके लिए मैं मध्यस्थता के लिए भी तैयार हूं।

आर्टिकल-370 भारत-पाकिस्तान के बीच का मामला है। ये लंबे वक्त से चला आ रहा है। CAA पर ट्रंप ने कहा कि इस पर भारत खुद फैसला करेगा। कश्मीर के मुद्दे पर डॉनल्ड ट्रंप ने कहा कि भारत-पाकिस्तान मिलकर इस मुद्दे को सुलझा सकते हैं और अगर जरूरत पड़ी तो हम मध्यस्थता के लिए तैयार हैं।

ट्रंप ने कहा कि आर्टिकल 370 को लेकर मैंने कुछ नहीं कहा था और मैंने सिर्फ यही कहा था कि कश्मीर एक बड़ी समस्या है। मैं यहां के नागरिकता संशोधन कानून को लेकर भी कुछ नहीं कहना चाहता हूं और यहां की सरकार जानती है कि क्या करना चाहिए।

ट्रंप ने कहा कि भारत एक मजबूत देश है और अपने यहां के मुद्दों को अच्छी तरह से सुलझाने पर यहां की सरकार अच्छा काम कर रही है। पाकिस्‍तान को लेकर अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप ने कहा कि आतंकवाद के खिलाफ पीएम मोदी बहुत सशक्‍त हैं। रेडि‍कल इस्‍लामिक आतंकवाद को खत्‍म करने के प्रयास जारी हैं।

पाक प्रायोजित आतंकवाद के बारे में पूछे जाने पर अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि हमने आज इसकी लंबाई पर बहुत बात की। कोई सवाल नहीं यह एक समस्या है। वे इस पर काम कर रहे हैं। मैंने कहा कि मैं मदद के लिए जो भी कर सकता हूं वह करूंगा क्योंकि दोनों सज्जनों (पीएम मोदी और पाक पीएम) के साथ मेरे संबंध इतने अच्छे हैं।

ट्रंप ने कहा कि भारत और पाकिस्तान दोनों देशों के प्रधानमंत्री के साथ हमारे संबंध अच्छे हैं और कश्मीर के मुद्दे को लेकर दोनों देश काम कर रहे हैं। जहां तक कश्मीर के ऊपर मध्यस्थता का सवाल है अगर हमसे कहा जाएगा तो हम मध्यस्ता के प्रयासों के लिए तैयार हैं। प्रधानमंत्री मोदी एक मजबूत पर शांत शख्स हैं और समस्याओं को हल करने को लेकर उनका अपना एक नजरिया है।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF