ट्रेवलिंग… उत्तराखंड की वादियां

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 31-01-2018 / 7:30 PM
  • Update Date: 31-01-2018 / 7:30 PM

उत्तराखंड ऐसी देवभूमि है, जहां सैलानी सालभर में किसी भी मौसम में आ जा सकते हैं। यहां प्रकृति, वन्यजीवन, एडवेंचर या तीर्थ स्थल कुछ है। यहां के प्रमुख स्थानों में हरिद्वार, ऋषिकेश, देहरादून, मसूरी, अल्मोड़ा, केदारनाथ, बद्रीनाथ, यमुनोत्री, गंगोत्री, जिम कॉर्बेट नेशनल पार्क नैनीताल, रानीखेत और पिथौरागढ़ हैं।

एडवेंचरर यदि कठिन चुनौतियां लेना चाहते हैं, तो आप हाई या लो एल्टीट्यूड की ट्रेकिंग, रिवर रॉफ्टिंग, पैरा ग्लाइडिंग, हेंग ग्लाइडिंग, पर्वतारोहण, स्कीइंग या दूसरी कई गतिविधियां कर सकते हैं।

पौड़ी गढ़वाल : यह उत्तराखंड की गोद में छोटा सा नगर है। पौड़ी गढ़वाल जिला मुख्यालय है। पौढ़ी गढ़वाल की मुख्य बोली गढ़वाली है। सड़क मार्ग से यह गांव 75 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है।

श्रीनगर गढ़वाल : श्रीनगर गढ़वाल शहर बद्रीनाथ राष्ट्रीय राजमार्ग पर बसा है। यह शहर चारों ओर ले घाटियों से घिरा हुआ है। इस शहर की प्रकृति का लुत्फ अलकनंदा नदी के किनारे से उठाया जा सकता है।

बेदनी बुग्याल : उत्तराखण्ड के गढ़वाल हिमालय में हिमशिखरों की तलहटी में जहां टिम्बर रेखा समाप्त हो जाती हैं, वहां से हरे मखमली घास के मैदान आरम्भ होने लगते हैं। गढ़वाल हिमालय में इन मैदानों को बुग्याल कहां जाता हैं। बुग्याल हिम रेखा और वृक्ष रेखा के बीच का क्षेत्र है।

खिर्सू : खिर्सू एक सुंदर स्थान है जो पौड़ी से 19 किमी की दूरी पर स्थित है। खिर्सू से मध्य हिमालयीन पर्वत श्रेणियों का सांस रोकने वाला दृश्य देखा जा सकता है। समुद्र सतह से 1700 मीटर की ऊंचाई पर स्थित शहर की हलचल से दूर खिर्सू एक सुरम्य स्थान है।

पौड़ी गढ़वाल : यह पौड़ी गढ़वाल का जी बी पंत इंजीनियरिंग कॉलेज है, जहां पर विभिन्न विषयों में इंजीनियरिंग की पढ़ाई की जा सकती है। जिला कॉलेज पौड़ी गढ़वाल से यह मात्र 14-15 किमी की दूरी पर स्थित है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF