गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए करें ये खास उपाय, बनेंगे बिगड़े काम

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 09-08-2018 / 7:20 AM
  • Update Date: 09-08-2018 / 7:20 AM

गणेश जी को बुद्धि के देवता माना जाता है। उनकी पूजन से हर तरह के विघ्न और बाधाएं दूर होती हैं। श्री गणेश बहुत छोटे-छोटे उपायों से भी प्रसन्न हो जाते हैं। आइए जानते हैं कुछ बहुत सरल उपाय जिन्हें करने से गणेशजी की कृपा और अशीर्वाद मिलने लगता है व धन व बुद्धि की कमी नहीं होती है। इतना ही नही, अभी सावन का महीना चल रहा है और इस दौरान बुधवार को गणेश जी के कुछ खास उपाय करने से विशेष लाभ मिलता है।

गुड का लगाएं भोग
भगवान गणेश को इस दिन घी और गुड़ का भोग लगाएं। भोग लगाने के बाद घी और गुड़ गाय को खिलाना चाहिए। ऐसा करने से घर में धन व खुशहाली आती है।

सफेद रंग के गणपति की करें स्थापना
अगर घर में नकारात्मक शक्तियों का वास है तो घर के मंदिर में सफेद रंग के गणपति की स्थापना करनी चाहिए। इससे सभी प्रकार की बुरी शक्तियों का नाश होता है।

दूर्वा अर्पित करें
हर दिन सुबह स्नान पूजा करके गणेश जी को गिन कर पांच दूर्वा यानी हरी घास अर्पित करें। दुर्वा गणेश जी के मस्तक पर रखना चाहिए। चरणों में दुर्वा नहीं रखें। दुर्वा अर्पित करते हुए मंत्र बोलें ‘इदं दुर्वादलं ऊं गं गणपतये नमः।

शमी के पत्ते चढ़ाएं
शमी गणेश जी को अत्यंत प्रिय है। शमी के कुछ पत्ते नियमित गणेश जी को अर्पित करें तो घर में धन एवं सुख की वृद्घि होती है।

मोदक का भोग लगाएं
गणेश जी को प्रसन्न करने के लिए मोदक का भोग लगाना चाहिए। गणपति अथर्वशीर्ष में लिखा है कि जो व्यक्ति गणेश जी को मोदक का भोग लगाता है गणपति उनका मंगल करते हैं। शास्त्रों में मोदक की तुलना ब्रह्म से की गई है।

इस मंत्र से बनेंगे बिगड़े काम

त्रयीमयायाखिलबुद्धिदात्रे बुद्धिप्रदीपाय सुराधिपाय।
नित्याय सत्याय च नित्यबुद्धि नित्यं निरीहाय नमोस्तु नित्यम्।।

अर्थ – भगवान गणेश आप सभी बुद्धि देने वाले, बुद्धि को जगाने वाले और देवताओं के भी ईश्वर हैं। आप ही सत्य और नित्य बोधस्वरूप हैं। आपको मैं सदा नमन करता हूं।

कैसे करें – सुबह नहा कर भगवान के सामने कम से कम 21 बार इस मंत्र का जप जरुर करें।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF