स्टालिन अपने बेटे को मुख्यमंत्री बनाना चाहते हैं: अमित शाह

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 03-04-2021 / 8:49 PM
  • Update Date: 03-04-2021 / 8:49 PM

चेन्नई। केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को कहा कि तमिलनाडु में 6 अप्रैल को होने वाले चुनाव में दो तरह की पार्टियां चुनाव लड़ रही हैं। एक पार्टी गरीबों के लिए काम करती है तो एक पार्टी वो है, जो अमीरों के लिए काम करती है। उन्होंने यह भी कहा कि द्रमुक अध्यक्ष एम.के.स्टालिन अब अपने बेटे उधयनिधि स्टालिन को मुख्यमंत्री बनाने का काम कर रहे हैं।

तमिलनाडु के तिरुनेलवेली जिले में एक चुनावी रैली को संबोधित करते हुए अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, एक चाय विक्रेता के बेटे, और मुख्यमंत्री के. पलानीस्वामी एक किसान के बेटे हैं, जो कठिन परिश्रम के माध्यम से यहां तक पहुंचे हैं।

उन्होंने कहा, “दूसरी ओर, कांग्रेस 4जी (गांधी परिवार की चार पीढ़ियों) की पार्टी है, जबकि द्रमुक एक 3जी पार्टी (एम करुणानिधि, एम. के. स्टालिन और उधयनिधि स्टालिन की तीन पीढ़ियों) की पार्टी है। स्टालिन की एकमात्र चिंता अपने बेटे उधयनिधि को तमिलनाडु का मुख्यमंत्री बनाना है।

डीएमके और कांग्रेस को अमीर और पारिवारिक पार्टी करार देते हुए शाह ने कहा कि भाजपा और अन्नाद्रमुक गरीब लोगों की पार्टी हैं और चुनाव कुलीन दलों और गरीब लोगों के बीच की लड़ाई है। शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी को तमिल भाषा से विशेष प्रेम है और वे जहां भी जाते हैं,इस भाषा के बारे में बोलते हैं।

श्रीलंकाई तमिल मुद्दे पर, शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने जाफना का दौरा किया है और भारत सरकार ने विस्थापित तमिलों के लिए वहां घर बनाए हैं। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार रक्षा कॉरिडोर, चेन्नई मेट्रो रेल और अन्य निवेश परियोजनाओं को लेकर आई है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF