तेज इंटरनेट से प्रभावित हो सकती है नींद, ऐसा हुआ खुलासा

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 09-08-2018 / 9:07 PM
  • Update Date: 09-08-2018 / 9:07 PM

इंटरनेट की तेज स्पीड के लिए ब्रॉडबैंड, वाई-फाई जैसे जरियों का सहारा लेने वालों के लिए बुरी खबर है। एक नए अध्ययन में दावा किया गया है कि तेज स्पीड के इंटरनेट का इस्तेमाल, आप कैसी और कितनी नींद लेते हैं, इसे प्रभावित कर सकता है।

इस शोध में देखा गया कि जो लोग डिजिटल सब्सक्राइबर लाइन (डीएसएल) का प्रयोग करते हैं वह डीएसएल इंटरनेट नहीं इस्तेमाल करने वालों की तुलना में 25 मिनट कम नींद ले पाते हैं। डीएसएल एक ऐसी तकनीक है जो साधारण तांबे की टेलिफोन तारों की बजाए ज्यादा बैंडविथ के इंटरनेट को घरों और छोटे कारोबारों तक पहुंचाता है।

इटली के बोकोनी यूनिवर्सिटी और अमेरिका की यूनिवर्सिटी आॅफ पिट्सबर्ग के शोधकतार्ओं ने बताया कि तेज स्पीड के इंटरनेट के इस्तेमाल से उन लोगों में नींद की अवधि और नींद पूरी होने की संतुष्टि घटती है जो सुबह में काम या पारिवारिक कारणों के लिए समय नहीं निकाल पाते।

बोकोनी यूनिवर्सिटी के प्राध्यापक फ्रांसेस्को बिल्लारी ने कहा, ‘डीएसएल इंटरनेट इस्तेमाल करने वाले लोग बिना डीएसएल के इंटरनेट इस्तेमाल करने वालों के मुकाबले 25 मिनट कम सोते हैं।’ बिल्लारी ने कहा, ‘ऐसे लोग सात से 9 घंटे की नींद नहीं ले पाते और वह अपनी नींद से संतुष्ट भी नहीं हो पाते।’ वैज्ञानिक समुदाय 7 से 9 घंटे की नींद लेने को जरूरी बताता है। यह शोध ‘जर्नल आॅफ इकनॉमिक बिहेवियर ऐंड आॅर्गनाइजेशन’ पत्रिका में प्रकाशित हुआ है।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF