शिवराज का कमलनाथ पर तंज- ये तो ठहरे परदेशी, साथ का क्या निभाएंगे, ये सीधे दिल्ली चले जायेंगे

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-08-2020 / 7:28 PM
  • Update Date: 22-08-2020 / 7:28 PM

ग्वालियर। मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आज पूर्ववर्ती कांग्रेस की कमलनाथ सरकार पर जमकर हमला बोलते हुए कहा कि उसने वादाखिलाफी की और इसी वजह से वह सरकार गिर गयी। चौहान ने यहां फूलबाग मैदान पर ग्वालियर विधानसभा क्षेत्र से संबंधित कार्यक्रम को संबोधित किया।

इस अवसर पर केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, वरिष्ठ नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया, प्रदेश अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा, राज्य के ऊर्जा मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर और अन्य नेताओं की मौजूदगी में पांच हजार से अधिक कार्यकर्ताओं ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की।

मुख्यमंत्री ने कहा ग्वालियर के महाराज ने कमलनाथ को सड़क पर ला दिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि गणेश महोत्सव पर आज श्रीगणेश करके 27 सीटों पर कांग्रेस का सूपड़ा साफ करेगें। कमलनाथ के लिए मुख्यमंत्री ने शायरना अंदाज में तंज कसा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कहा कि ये तो ठहरे परदेशी, साथ का क्या निभाएंगे, ये सीधे दिल्ली चले जायेंगे।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने कमलनाथ पर गंभीर आरोप लगाए हैं। मुख्यमंत्री ने कहा है कि कमलनाथ ने बल्लभ भवन को दलालों के अड्डा बना दिया था। सीएम ने कहा कि कमलनाथ ने जनता के साथ विश्वासघात और गद्दारी की थी। 15 महीनो में सिर्फ पैसा पैसा करते रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कमलनाथ को ग्वालियर, किसी गांव या खेत खलिहान आदि में जाने की फुर्सत नहीं मिली। वे लोगों से भी नहीं मिलते थे। कमलनाथ ने अपने वादों को भी पूरा नहीं किया। वहीं ज्योतिरादित्य सिंधिया ने हमेशा जनहित और मुद्दों का समर्थन किया। सिंधिया ने अनुच्छेद 370 हटाने का कांग्रेस में रहने के दौरान ही समर्थन किया था।

राज्य विधानसभा चुनाव के दौरान कांग्रेस ने सिंधिया को आगे किया गया और सरकार आने पर उनकी अनदेखी की गयी। चौहान ने कांग्रेस नेताओं द्वारा कांग्रेस छोड़ने वाले नेताओं को ‘गद्दार’ बताने का प्रतिकार करते हुए कहा कि लगभग एक सौ साल पहले तत्कालीन कांग्रेस नेता मोतीलाल नेहरु ने कांग्रेस छोड़कर स्वराज पार्टी बना ली थी। इसी तरह महान क्रांतिकारी सुभाषचंद्र बोस ने भी कांग्रेस छोड़कर नया दल बना लिया था। चौधरी चरण सिंह और अन्य नेताओं ने भी कांग्रेस छोड़ी।

तो क्या उन्हें भी इसी तरह पुकारा जाएगा। चौहान ने कहा कि दरअसल कांग्रेस ने ही वादाखिलाफी की और इस वजह से पंद्रह माह में ही उसकी सरकार गिर गयी। उन्होंने कहा कि इस सरकार ने प्रदेश को तबाह कर दिया है। वह सरकार हमेशा पैसों का रोना रोती रहती थी। ऐसी सरकार को इस राज्य की जनता कभी माफ नहीं करेगी। उन्होंने केंद्र सरकार की अनुच्छेद 370 हटाने समेत अनेक उपलब्धियों को गिनाया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के कार्यों की सराहना की।

उन्होंने कहा कि केंद्र की मोदी और मध्यप्रदेश की भाजपा सरकार गरीबों के हित में हरसंभव निर्णय ले रही है। राज्य सरकार ने एक सितंबर से 37 लाख गरीबों को नाममात्र की दर पर राशन मुहैया कराने का निर्णय भी लिया है। चौहान ने इस अवसर पर लोगों को संकल्प दिलाया कि आगामी विधानसभा उपचुनाव में ग्वालियर सीट से प्रद्युम्न सिंह तोमर को भाजपा प्रत्याशी के तौर पर विजयी बनाने के प्रयास होंगे।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF