धारा 377: सुप्रीम कोर्ट कल सुनाएगा फैसला, समलैंगिकता अपराध है या नहीं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 05-09-2018 / 10:31 PM
  • Update Date: 05-09-2018 / 10:31 PM

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट आपसी सहमति से स्थापित समलैंगिक यौन संबंधों को अपराध की श्रेणी में रखने वाली आईपीसी की धारा 377 की वैधता को चुनौती देने वाली याचिकाओं पर कल यानी गुरुवार को फैसला सुनाएगा।

फैसला चीफ जस्टिस ऑफ इंडिया दीपक मिश्रा की अध्यक्षता में 5 न्यायाधीशीय संविधान खंडपीठ द्वारा दिया जाएगा। शीर्ष अदालत की खंडपीठ ने पूरी सुनवाई के बाद 17 जुलाई को अपना फैसला सुरक्षित कर लिया था।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF