रुपए में उतार-चढ़ाव थर्मामीटर जैसा

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 22-08-2018 / 11:30 PM
  • Update Date: 22-08-2018 / 11:30 PM

नई दिल्ली। नीति आयोग के उपाध्यक्ष राजीव कुमार ने कहा कि रुपए की कीमत में उतार-चढ़ाव से बाजार की साख पर कोई बट्टा नहीं लगता। यह तो थर्मामीटर के पारे के चढऩे-उतरने जैसा है। न ही रुपया गिरने से महंगाई बढ़ती है।

सीआईआई के एक कार्यक्रम में कुमार ने कहा कि रुपए में गिरावट की बजाय बढ़ते व्यापार घाटे पर ’यादा चिंता करना चाहिए। हमें निर्यात बढ़ाने के उपाय भी खोजना होंगे। आर्थिक नीति में केवल राजकोषीय घाटे पर ध्यान नहीं देना चाहिए। आयुष्मान भारत योजना के लिए चार रायों को छोड़ कर सभी ने केंद्र के साथ समझौता किया है। पश्चिम बंगाल की सीएम भी इसे शुरू करने पर राजी हैं।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF