राफेल लड़ाकू विमान सौदा देश का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला: राहुल गांधी

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 10-08-2018 / 7:33 PM
  • Update Date: 10-08-2018 / 7:33 PM

रायपुर। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने आज राफेल लड़ाकू विमान सौदे को देश का अब तक का सबसे बड़ा रक्षा घोटाला करार देते हुए इसके लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने यहां एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए दावा किया कि राफेल विमानों का दाम 540 करोड़ रुपये प्रति विमान से जादुई तरीके से बढ़कर 1600 करोड़ रुपये प्रति विमान हो गया। भारत ने 2015 में फ्रांस से 36 राफेल लड़ाकू विमान खरीदने के लिए समझौते पर हस्ताक्षर किये थे। गांधी ने कहा, संप्रग सरकार ने राफेल करार तैयार किया था जिसके अनुसार हर विमान का दाम करीब 540 करोड़ रुपये था।

करार तैयार था और मोदी जी को केवल फैसला करना था। गांधी ने कहा, लेकिन, मोदी जी फ्रांस गये और उन्होंने पिछला करार खत्म कर दिया और रक्षा मंत्री तथा अन्य कैबिनेट मंत्रियों को इसके बारे में पता नहीं था। कांग्रेस नेता ने आरोप लगाया कि लड़ाकू विमान के संबंध में एक अनुबंध सरकारी हिन्दुस्तान ऐरोनाटिक्स लिमिटेड से छीन लिया गया और इसे एक निजी कंपनी को दे दिया गया जिसने कभी विमान नहीं बनाया और ना ही कभी कोई रक्षा अनुबंध लिया। उन्होंने दावा किया, जिस कंपनी से करार किया गया उस पर 45 हजार करोड़ रुपये का ऋण था।

Share This Article On :
loading...

BIG NEWS IN BRIEF