पंजाब: जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या 98 पहुंची

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 02-08-2020 / 8:03 PM
  • Update Date: 02-08-2020 / 8:03 PM

चंडीगढ़। पंजाब में जहरीली शराब पीने से मरने वालों की संख्या रविवार को 98 हो गई। तरनतारन जिले में 12 और लोगों की मौत के साथ ही यह आंकड़ा लगातार बढ़ता जा रहा है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस मामले में पहले ही 13 अधिकारियों को सस्पेंड कर दिया है। साथ ही मृतकों के परिजन को दो-दो लाख रुपये का मुआवजा देने का भी ऐलान किया है। जहरीली शराब पीने से बीमार हुए लोगों का कहना है कि जब से उन्होंने शराब पी है, तभी से उन्हें देखने में समस्या हो रही है।

डिप्टी कमिश्नर कुलवंत सिंह ने बताया कि अब तक जिला तरन तारन में कुल 75 लोग जहरीली शराब पीने से मारे गए है। जिनमें बहुत लोगों के परिवारों ने उनका अंतिम संस्कार कर दिया है, जबकि बाकी लोगों का संस्कार अस्पताल में पोस्टमार्टम करवाके जहरीली शराब बेचने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

शनिवार को मृतकों की संख्या 86 थी। पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने पहले ही इस मामले में जांच के आदेश दिए हैं। इसके लिए SIT भी बनाई गई है, जो पूरे मामले की जांच करेगी। पंजाब सरकार दावा कर रही है कि जहरीली शराब बनाने और सप्लाई करने वाले दोषियों को जल्द ही गिरफ्त में ले लिया जाएगा।

इस पूरे मामले में पंजाब के बॉर्डर रेंज के डीआईजी हरदयाल सिंह मान ने दावा किया है कि जल्द ही आरोपी सलाखों के पीछे होंगे। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की जांच कर रही है। फरार आरोपियों को पकड़ने के लिए लगातार तमाम इलाकों में छापेमारी की जा रही है।

आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जहरीली शराब पीने से बड़ी संख्या में लोगों की मौत पर गहरा दुख व्यक्त करते हुए पूरे मामले की केन्द्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) से जांच कराने की मांग की है। केजरीवाल ने रविवार को ट्वीट कर घटना पर शोक जताया।

उन्होंने कहा, अवैध शराब के कारण पंजाब में जान-माल के नुकसान से दुखी हूं। जहरीली शराब माफियाओं पर अंकुश लगाने के लिए राज्य सरकार को तुरंत आवश्यक कदम उठाने की जरूरत है। मामले की जांच तुरंत सीबीआई को सौंप दी जानी चाहिए क्योंकि पिछले कुछ महीनों से अवैध शराब के मामलों में स्थानीय पुलिस की ओर से किसी तरह का कोई समाधान नहीं किया गया है।

Share This Article On :
Loading...

BIG NEWS IN BRIEF