मथुरा में बोलीं प्रियंका गांधी, जब तक काले कानून वापस नहीं होंगे किसान लड़ता रहेगा

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 23-02-2021 / 5:23 PM
  • Update Date: 23-02-2021 / 5:23 PM

नई दिल्ली। उत्तर प्रदेश में अगले साल होने वाले विधानसभा चुनाव के लिए अभी से ही पार्टियों की तैयारी देखा जा सकता है। ऐसे में कांग्रेस ने पूरी तरह से कमर कस ली है। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी अभी से पूरी तरह से एक्टिव दिख रही हैं। कृषि कानूनों के विरोध में प्रियंका ने आज मथुरा में किसान महापंचायत को संबोधित किया।

प्रियंका गांधी ने कृषि कानूनों को लेकर केंद्र सरकार पर जमकर हमला बोला। इस दौरान शहीद किसानों के लिए दो मिनट का मौन भी रखवाया गया। कृष्ण नगरी मथुरा में प्रियंका गांधी ने अपने भाषण की शुरुआत राधे-राधे से किया और बांके बिहारी, यमुना मईया का जयकारा भी लगवाया।

उन्होंने कहा कि यह धरती अहंकार तोड़ती है, इंद्र का अहंकार तोड़ने के लिए कृष्ण जी ने गोवर्धन पर्वत उठाया। बीजेपी सरकार ने भी अहंकार पाल लिया है। अन्न उपजाने वाला और बॉर्डर पर जवान भेजने वाले किसान 90 दिनों से सड़कों पर बैठे हैं। प्रियंका ने आरोप लगाया कि केंद्र सरकार ने किसानों को प्रताड़ित किया है। साथ ही उन्होंने कहा कि उनसे मिलने ना प्रधानमंत्री आए ना किसी को भेजा।

केंद्र सरकार पर हमला बोलते हुए प्रियंका गांधी ने कहा कि 90 दिनों से देश की राजधानी के बॉर्डर पर किसान अपने अधिकारों की लड़ाई लड़ रहा है, 215 किसान शहीद हुए। प्रधानमंत्री जो अपने शासनकाल में दुनिया के हर कोने तक पहुंच पाए, वो दिल्ली जहां वो रहते हैं, उसके बॉर्डर तक नहीं पहुंच पाए। साथ ही उन्होंने कहा जिस सरकार ने किसानों से तमाम वादे किये थे उसके लिए आपने कुछ नहीं किया। गन्ना किसानों का बकाया 15 हजार रुपये है।

कांग्रेस महासचिव ने आगे कहा कि जैसे ही इनकी नीति निर्णय पर सवाल उठता है, एकदम पीछे होते हैं और जिम्मेदारी नहीं लेते। दूसरी सरकारों पर डालते हैं। पेट्रोल डीजल के दाम बढ़ाये तो पिछली सरकारों को दोष देते हैं। आज देश देख रहा है किसान संघर्ष कर रहा है। किसानों जब तक आप लड़ते रहोगे तब तक मैं लड़ती रहूंगी। मेरी सरकार आते ही इन कानूनों को सबसे पहले रोक दिया जाएगा। इस सरकार को खत्म करने के लिए मैं संघर्ष करूंगी।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF