देश में कोरोना रिटर्न: पीएम मोदी ने की हाईलेवल मीटिंग, वैक्सीनेशन पर दिया जोर

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 04-04-2021 / 9:06 PM
  • Update Date: 04-04-2021 / 9:06 PM

नई दिल्ली। देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना के मामलों के बढ़ने के साथ ही मुश्किल हालात भी लौटने लगे हैं। सूत्रों के अनुसार फिर से बेकाबू होते कोरोना संक्रमण से संबंधित मामलों की समीक्षा और कोरोना वैक्‍सीनेशन पर चर्चा के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रविवार को हाईलेवल मीटिंग बुलाई है।

इस बैठक में इस बैठक में कैबिनेट सचिव, प्रधानमंत्री के प्रधान सचिव, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव सहित अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौजूद रहे। पीएम मोदी के समक्ष प्रस्तुति के दौरान 10 राज्यों में संक्रमण के मामलों, मौतों में वृद्धि की खतरनाक दर की ओर ध्यान आकर्षित किया गया, जोकि कुल मामलों का 91 फीसदी से अधिक है।

पीएम मोदी ने समीक्षा बैठक के दौरान कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के मद्देनजर केंद्रीय दलों को महाराष्ट्र का दौरा करने को कहा। प्रधानमंत्री मोदी ने कोविड-19 के कारण बड़ी संख्या में हो रही मौतों के चलते केंद्रीय दलों को पंजाब, छत्तीसगढ़ का दौरा करने के निर्देश दिए।

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कहा कि शत-प्रतिशत मास्क के उपयोग, व्यक्तिगत स्वच्छता पर जोर देने के साथ ही कोविड बचाव संबंधी सावधानियों के लिए छह अप्रैल से 14 अप्रैल के बीच विशेष अभियान चलाया जाएगा।

पीएम मोदी ने 5 टी की रणनीति पर जोर दिया है। इसमें टेस्‍टिंग, ट्रेसिंग, ट्रीटमेंट , कोविड के लिए उचित व्यवहार और टीकाकरण को गंभीरता और प्रतिबद्धता के साथ लागू की जाए तो यह महामारी के प्रसार को रोकने में प्रभावी होगी।

बता दें कि भारत में रविवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 93,249 नए मामले सामने आए जो इस साल एक दिन में आए कोविड-19 के सर्वाधिक केस हैं। इसके साथ ही देश में संक्रमण के कुल मामलों की संख्या बढ़कर 1,24,85,509 हो गई है।

देश में अब तक कुल 7.5 करोड़ से ज्यादा लोगों को वैक्सीनेशन की खुराक दी जा चुकी है। जिसमें से 6.5 करोड़ लोगों को इसकी पहली खुराक मिल चुकी है जबकि सिर्फ एक करोड़ लोगों को दूसरी डोज मिली है। विशेषज्ञों की मानें तो वैक्सीन की दोनों डोज मिलने के बाद ही शरीर कोरोना से लड़ने के लिए तैयार माना जाता है।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF