तमिलनाडु में बोले पीएम मोदी- जल्लीकट्‌टू को कांग्रेस और डीएमके बंद करना चाहती हैं

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 02-04-2021 / 3:48 PM
  • Update Date: 02-04-2021 / 3:48 PM

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज तमिलनाडु और केरल के दौरे पर हैं। वे दोनों राज्यों में चार रैलियों को संबोधित करेंगे। मोदी सबसे पहले तमिलनाडु के मदुरै पहुंचे। यहां उपमुख्यमंत्री ओ.पन्नीरसेल्वम ने उनका स्वागत किया। इसके बाद उन्होंने रैली को संबोधित किया।

उन्‍होंने एमजी रामचंद्रन की विरासत का आह्वान करते हुए कहा कि फिल्म ‘मदुरई वीरन’ को कौन भूल सकता है। कांग्रेस प्रदेश में एमके स्टालिन के नेतृत्व वाले डीएमके के साथ गठबंधन में तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ रही है।

पीएम मोदी ने कहा, 1980 में कांग्रेस ने एमजीआर की लोकतांत्रिक रूप से चुनी हुई सरकार को खारिज कर दिया, जिसके बाद चुनाव हुए और एमजीआर ने मदुरई पश्चिम सीट से जीत हासिल की। मदुरै के लोग चट्टान की तरह उसके पीछे खड़े थे। भाजपा के स्टार प्रचारक ने कहा, “1977, 1980 और 1984 में एमजीआर ने दक्षिणी तमिलनाडु से जीत दर्ज की।

उन्‍होंने कहा, दक्षिण तमिलनाडु और विशेष रूप से मदुरै का एमजीआर के साथ एक विशेष संबंध है। पीएम मोदी ने घोषणा की कि तमिलनाडु और विशेष रूप से दक्षिणी तमिलनाडु के लिए हम तीन स्तंभों- इन्फ्रास्ट्रक्चर, सिंचाई और निवेश पर ध्यान केंद्रित करके क्षेत्र के विकास पर ध्यान केंद्रित करना चाहते हैं। भाजपा सत्तारूढ़ अन्नाद्रमुक और पीएमके के साथ गठबंधन में तमिलनाडु विधानसभा चुनाव लड़ रही है।

जल्लीकट्टू को लेकर द्रमुक और कांग्रेस पर निशाना साधते हुए पीएम ने कहा कि दोनों दल तमिल संस्कृति के एकमात्र रक्षक होने के लिए खुद को चित्रित करते रहते हैं, लेकिन तथ्य कुछ और ही बताते हैं। उन्होंने 2011 की उस घटना को याद किया जब कांग्रेस की अगुवाई वाली यूपीए-2 सरकार थी, जिसमें द्रमुक गठबंधन की सहयोगी थी और उसने जल्लीकट्टू पर प्रतिबंध लगाया था।

प्रधानमंत्री ने कहा, मैं उनके दर्द को महसूस कर सकता था। हमारी सरकार ने तमिलनाडु में AIADMK सरकार द्वारा लाए गए अध्यादेश को हटाया, जिससे जल्लीकट्टू को होने दिया गया। 2016 में तमिलनाडु कांग्रेस के घोषणापत्र में जल्लीकट्टू पर प्रतिबंध लगाने का आह्वान किया गया था। कांग्रेस और डीएमके को खुद पर शर्म आनी चाहिए। 2016-2017 में तमिलनाडु के आम लोग एक समाधान चाहते थे और चाहते थे कि जल्लीकट्टू जारी रहे।

भाजपा-अन्नाद्रमुक गठबंधन को मतदाताओं से वोट देने की अपील करते हुए प्रधान मंत्री ने कहा कि केंद्र में एनडीए सरकार देश भर में डिजिटल बुनियादी ढांचे पर काम कर रही है और हर गांव में हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड उपलब्ध कराने के लिए काम चल रहा है। एनडीए के लिए एक वोट इस क्षेत्र में बेहतर निवेश के लिए एक वोट है।

पीएम ने कहा कि हम और अधिक उद्योगों के लिए सही माहौल तैयार कर रहे हैं, विशेष रूप से कृषि-उद्योग जो हमारे किसानों की मदद करते हैं। द्रमुक और कांग्रेस पर कड़ा प्रहार करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि दोनों दलों के पास कोई वास्तविक एजेंडा नहीं है और उन्हें अपने झूठ पर नियंत्रण रखना चाहिए।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF