असम में बोले पीएम मोदी- जनता ने कांग्रेस और उसके महाझूठ को रेड कार्ड दिखाया

  • ByJaianndata.com
  • Publish Date: 01-04-2021 / 5:00 PM
  • Update Date: 01-04-2021 / 5:00 PM

नई दिल्ली। गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने असम में होने वाले तीसरे चरण के मतदान के मद्देनजर चुनावी सभा की। उन्होंने लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि, मैं आपके घर के सदस्य की तरह हूं, इसलिए आपका मुझपर पूरा अधिकार है। हम मिलकर इस विश्वास को दिनों दिन और मजबूत करेंगे। हम मिलकर इस क्षेत्र का विकास करेंगे। हम मिलकर यहां की गौरवशाली परंपरा को आगे बढ़ाएंगे।

पीएम मोदी ने कहा कि, असम में पहले चरण की वोटिंग में असम के लोगों ने NDA को भरपूर आशीर्वाद दिया है। पहले चरण की वोटिंग में असम ने डबल इंजन की सरकार की भव्य विजय पर मोहर लगा दी है। उन्‍होंने कहा, असम के विकास के लिए असम के लोगों का विश्वास एनडीए पर है। असम को दशकों तक लूटने वाले, असम को तबाह करने का सपना देख रहे महाझूठ वाले बौखला रहे हैं। महाझूठ वाले बड़े-बडे झूठ बोलेंगे, अफवाहें फैलाएंगे लेकिन असम के लोगों को उनसे सावधान रहना है। यह महाझूठ और डबल इंजन के महाविकास के बीच का चुनाव है।

पीएम मोदी ने कहा, यहां के युवाओं में फुटबॉल बहुत लोकप्रिय है। अगर मुझे उनकी भाषा में बोलना है, तो मैं कहूंगा कि जनता ने अभी तक कांग्रेस और इसके महाझूठ को रेड कार्ड दिखाया है। असम के लोग राज्य के विकास, शांति, सुरक्षा के लिए एनडीए पर भरोसा करते हैं। उन्‍होंने कहा, कांग्रेस ने अपना ‘हाथ’ और भाग्य उस पार्टी के नेताओं को सौंप दिया है, जिसने कोकराझार को हिंसा में धकेल दिया था। कांग्रेस उन लोगों की मदद से असम में सत्ता में आने का सपना देख रही है, जिन्हें उसने अपने वोट बैंक के लिए बचाया था।

पीएम मोदी ने कहा, कांग्रेस नेताओं का कहना है कि ‘लॉक एंड की’ लोग असम की पहचान हैं। कांग्रेस के झूठ और षड्यंत्र को समझें। ऐसे लोगों के सत्ता में वापस आने से पहले ही इसने आत्मसमर्पण कर दिया। इस अपमान के लिए न केवल कांग्रेस बल्कि पूरे महाझूठ को दंडित किया जाएगा। कल पूरे असम राज्य ने एक वीडियो में देखा कि कैसे असम की पहचान, असम की महिलाओं की कट्टरता के प्रतीक ‘गामोसा’ का सार्वजनिक रूप से अपमान किया गया था। हर कोई जो असम से प्यार करता है, उन तस्वीरों को देखकर आहत और गुस्से में है।

उन्‍होंने कहा, ऐसी कोई जनजाति नहीं जिससे कांग्रेस ने विश्वासघात नहीं किया, वहीं एनडीए सरकार सभी जातियों के हित में कदम उठा रही है। इसके लिए नई डेवलपमेंट काउंसिल बनाने का काम यहां तेज़ी से चल रहा है। कांग्रेस के लंबे शासन ने असम को बम, बंदूक और ब्लॉकेड में झोंक दिया था। एनडीए ने असम को शांति और सम्मान की सौगात दी है।

इससे पहले पीएम मोदी ने लोकतंत्र के त्योहार को मजबूत करने के लिए असम और पश्चिम बंगाल में दूसरे चरण के विधानसभा चुनावों में लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने का आग्रह किया।

Share This Article On :

BIG NEWS IN BRIEF